मुख्य समाचारआम मुद्देराजनैतिक खबरें

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव 2020 : चुनाव आयोग ने जारी किया दिशा निर्देश, जानिये किन-किन बातों का रखना होगा ध्यान।

Story Highlights

  • Uttar Pradesh Panchayat Election 2020: Election Commission has issued guidelines, know what needs to be taken care of.

सोनभद्र – सोनप्रभात 

एस0के0गुप्त ‘ प्रखर’ / आशीष गुप्ता

यूपी में होने वाले त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के लिए पहली अक्तूबर से वोटर लिस्ट पुनरीक्षण का कार्य शुरू होगा। अगर आपके घर पर बूथ लेबल आफिसर नहीं आता है तो आप उसे फोन कर अपने घर पर बुला सकते हैं। उत्तर प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट https://sec.up.nic.in पर पंचायतवार हर वार्ड/गाँव के लिए एक बीएलओ का नाम व उसका मोबाइल नम्बर उपलब्ध रहेगा।
राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट https://sec.up.nic.in  पर जाकर ‘सर्च बीएलओ’ पेज पर जाकर आप अपनी पंचायत के अपने वार्ड के बीएलओ का नाम व फोन नम्बर पता कर सकते हैं।

अगर बीएलओ ठीक से काम नहीं कर रहा है या उससे आपको कोई शिकायत है तो आप प्रशासन से उसकी शिकायत भी कर सकते हैं। आयोग के नम्बर– 0522-2630130, फैक्स नम्बर–0522- 2630115 , 2630134 और ई-मेल आईडी पर भी–secup@secup.in, secup@up.nic.in पर भी सम्पर्क किया जा सकता है।

 

चुनाव आयोग की तरफ से बीएलओ व अन्य कार्मिकों के लिए गाइड लाइन-: 

1-वोटर लिस्ट पुनरीक्षण के काम में लगे बीएलओ व अन्य कार्मिकों को अपने मोबाईल फोन पर आरोग्य सेतु डाउनलोड रखना होगा।

2-कोई कर्मिक जब अपने एरिया में जाए तो उसे फेस मास्क लगाए रखना होगा।

3-किसी भी घर के एक या दो सदस्यों से ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दो गज की दूरी से ही बात की करेंगे।

4-अनावश्यक भीड़ इकट्ठा करके एक साथ कई परिवारों का विवरण दर्ज नहीं किया करेंगे।

5-हैण्ड सैनिटाइजर को अपने साथ रखनी होगी। किसी भी दस्तावेज को देखने या उस पर हस्ताक्षर कराने के बाद हाथों का सैनिटाइज किया जाएगा।

 वोटरों का ब्यौरा देने के लिए घर के अभिभावक/ मुखिया को सलाह-: 

1-बीएलओ जब आपके घर आए तो दो गज का फासला बनाकर चेहरे पर फेस मास्क लगाकर उसके प्रश्नों का उत्तर दें।

2-प्रयास यही हो कि घर का मुखिया अपने पूरे परिवार के सभी सदस्यों के नाम, पिता का नाम,  लिंग व आयु का विवरण दे।

3-पिछले पांच वर्ष में अगर आपके परिवार में माता-पिता या किसी अन्य सदस्य का देहांत हुआ तो उसका भी विवरण भी बीएलओ को दें।

4-बीएलओ के मांगने पर उसे निवास का प्रमाण-पत्र, आधार कार्ड, राशन कार्ड आदि उपलब्ध करवाएं।

जब बीएलओ आपके घर/एरिया में आए तो आसपास के पड़ोसियों की भीड़ को एकत्रित न होने दें था covid-19 के नियमों का सख्ती से पालन करे तथा लोगो से कराये।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close