मुख्य समाचार

व्यक्तित्व विकास हेतु शिविर प्रशिक्षण की दो दिवसीय कार्यशाला आयोजित।

सोनप्रभात – जितेंद्र चन

  •  शोषितो,दलितों ,वंचितों को समर्पित है मोदी सरकार-सुरेन्द्र अग्रहरि
  • मोदी सरकार वंचितों व दलितों के लिए समर्पित- सुरेन्द्र अग्रहरि

(कोन) सोनभद्र- भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय व प्रदेश नेतृत्व के निर्देशन में केन्द्रीय प्रशिक्षण विभाग द्वारा सोनभद्र जनपद के सभी मंडलो में कार्यकर्त्ताओ के व्यक्तित्व विकास के लिए प्रशिक्षण शिविर का 2 दिवसीय कार्यशाला आयोजित की जा रही है ।

इसी क्रम में कोन मण्डल के राजवंशी देवी इंटरमीडिएट कालेज के प्राँगण में द्वितीय दिवस के प्रथम सत्र का उद्घाटन भाजपा नेता डीसीएफ चेयरमैन सुरेन्द्र अग्रहरि ने किया।प्रथम सत्र के उद्घाटन सत्र में पिछले 6 वर्षो में हुए अन्त्योदयी प्रयत्न विषय पर बोलते हुए अग्रहरि ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अपनी पंचनिष्ठाओं में से एक सामाजिक आर्थिक विषयों पर गांधीवादी दृष्टिकोण जिससे शोषण मुक्त -समता युक्त समाज की स्थापना हो सके इसके लिए कृतसंकल्पित है।भारतीय जनता पार्टी की अंत्योदय की संकल्पना पर पूर्ण विश्वास है।पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने कहा था कि “हमारी भावना और सिद्धान्त है कि मैले कुचैले ,अनपढ़, सीधे सादे लोग हमारे लिए भगवान के समान है।हमे इनकी पूजा करनी चाहिए।यह हमारा सामाजिक मानव धर्म है।जिस दिन हम इनको पक्के, सुन्दर घर बनाकर देंगे ,जिस दिन हम इनके हाथ और पॉव की बिवाइयों को भरेंगे ,साथ ही इनको उद्योग धन्धो की शिक्षा देकर इनकी आय को ऊँचा उठा देंगे ,उसी दिन हमारा भ्रातृभाव व्यक्त होगा।लोकसभा चुनाव2014 में ऐतिहासिक विजय प्राप्त करने के बाद 20 मई 2014 को भाजपा संसदीय दल का नेता चुने जाने पर अपने सम्बोधन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने कहा था कि नई सरकार देश के गरीबो को समर्पित है और मान सम्मान के लिए तरसती हमारी माँ ,बहनो को समर्पित है।गाँव का गरीब, किसान, दलित, वंचित, शोषित, ,पीड़ित हो ,उसके लिए यह सरकार समर्पित हैं।हम सबकी प्राथमिकता उनकी आशा और आकांक्षाओं की पूर्ति करना है। केन्द्र में स्थापित मोदी जी की सरकार ने गरीबो,पिछडो, दलितों, वंचितों एवं शोषितों के विकास और उनके उत्थान के लिए पिछले 6 वर्षो में अनेक महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक पहले की और योजनाओं को चलाया।

आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत 20 लाख करोड़ रुपए के विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की जिसके अन्तर्गत कोरोना महामारी से लड़ने के लिए भारत की जीडीपी के 10 प्रतिशत के बराबर यानि 20 लाख करोड़ रुपए के विशेष आर्थिक पैकेज दिया।इस पैकेज में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 80 करोड़ गरीबो को नवम्बर 2020 तक हर माह प्रति व्यक्ति मुफ्त 5 किलो राशन और 1 किलो दाल देने की घोषणा की।प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना से लाभान्वित महिलाओं को मुफ्त गैस सिलिंडर,महिला जन धन खाताधारकों को 500 रुपये महीना, 3 करोड़ वरिष्ठ नागरिकों, विधवाओं एवं दिव्यांगजनो को 1000 रुपये की अनुग्रह राशि दी गई।साथ ही प्रवासी कामगारों ,किसानों ,छोटे उद्योगों, कृषि, एवम ग्रामीण क्षेत्र के लिए कई योजनाओं को लागू किया।प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के माध्यम से जन सशक्तिकरण कोविड 19 संबंधित वित्तीय सहायता, पीएम किसान मनरेगा के तहत मजदूरी में वृद्धि जीवन एवम स्वास्थ्य बीमा कवर ,प्रत्येक वयस्क को बैंक खाता प्रदान करने के लिए उठाया गया पहला कदम था जिससे व्यवस्था में से विचौलियों का सफाया हो गया और गरीब के खाते में सीधे राशि हस्तांतरित हो पाया।जन धन खाता के अंतर्गत 28 अगस्त 2020 तक 40.35 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को बैंकिंग से जोड़ा गया है।गरीब किसानों की आमदनी दुगुना करने के लक्ष्य के अंतर्गत 10 करोड़ से अधिक किसानों के हाथों में 90 हजार करोड़ रुपए से अधिक की धनराशि दी गई।आयुष्मान भारत योजना के तहत अब तक 1.25 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को इसका लाभ मिला।आयुष्मान भारत दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य आश्वासन योजना है जिसका उद्देश्य प्रति परिवार प्रतिवर्ष 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज के लिए 10.75 करोड़ से भी अधिक गरीब और वंचित परिवारों को लाभ उपलब्ध कराना है।गरीब महिलाओं की जिंदगी आसान करने तथा धुंए से मुक्ति दिलाने के लिए अब तक 8 करोड़ से भी अधिक मुफ्त गैस कनेक्शन बाटे गए।खुले में शौच से मुक्ति के लिए शौचालयों का निर्माण कराया गया। देश में ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में सड़कों के किनारे फल,सब्जियां बेचने और रेहडी पर छोटे छोटे दुकान लगाने वालो के लिए केन्द्र सरकार ने 1 जून 2020 को स्वनिधि योजना की शुरुआत की जिसके अंतर्गत दस हजार रुपये का लोन दिया जाता है जिसे समय पर चुकाने पर सात प्रतिशत ब्याज सब्सिडी दी जाती हैं।।वन नेशन, वन राशनकार्ड योजना, स्टैण्ड अप योजना, जल जीवन मिशन ,प्रधानमंत्री वय वंदना योजना, नई पेंशन योजना से 3 करोड़ खुदरा व्यापारी और दुकानदार को लाभान्वित करने का निर्णय लिया गया है।

इस प्रशिक्षण शिविर में अध्यक्षता सुनील जायसवाल ने किया ।जिला उपाध्यक्ष शिवकुमार गुप्ता ,पूर्व ब्लॉक प्रमुख वंशीधर, संजय चतुर्वेदी, महंगा राम, शिवप्रसाद, रामाश्रय गुप्ता, मीरा ओझा , विनोद महाजन, नारदमुनि, गौतम शर्मा, धनुषधारी, जगरनाथ पासवान, विरेन्द्र रॉय, अमरनाथ , उपस्थित रहे। संचालन महामंत्री विद्यानंद त्रिपाठी ने किया।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close