मुख्य समाचारशिक्षा

क्या आप जानते है-: भारत में पहली बार अखबारों का प्रकाशन कब शुरू हुआ था। जाने 11 फरवरी के दिन का इतिहास में कारनामे।

संकलन – एस0के0गुप्त ‘प्रखर’ – सोनप्रभात

      • 11 फ़रवरी को जन्मे व्यक्ति –
  • 11 फरवरी के दिन ही कई ऐसे व्यक्तियों ने जन्म लिया, जिन्होंने दुनिया में आकर बड़ा नाम किया।
  • 1750 में ‘भारतीय स्वाधीनता संग्राम के पहले शहीद तिलका माँझी का जन्‍म हुआ था।
  • 1847 दुनिया को कई नायाब चीजें देने वाले अल्‍वा एडिसन का जन्‍म हुआ था।

  • 1901 में भारतीय क्रांतिकारी दामोदर स्वरूप सेठ का जन्‍म हुआ था।
  • 1917 में भारतीय क्रांतिकारी टी नागि रेड्डी का जन्‍म हुआ था।
  • 1917 में दुनिया में सबसे ज्‍यादा पढ़े जाने लेखकों में से एक सिडनी शेल्‍डन का जन्‍म हुआ था।
  • भारतीय महिला अभिनेत्री टीना मुनीम का 11 फरवरी, 1957 को जन्म हुआ था।

 

      • 11 फ़रवरी को हुए निधन –

 

  • 11 फरवरी के दिन कई ऐसी शख्सियत है आज उनके द्धारा किए गए कामों के लिए हम उन्हें आज भी याद करते है। –
  • मुग़ल सम्राट जहाँदारशाह का निधन 1713 में हुआ।
  • प्रसिद्ध समाजसेवी जमनालाल बजाज का निधन 1942 में हुआ।
  • हिन्दी के आरम्भिक उपन्यास लेखकों में से एक हरिकृष्ण ‘जौहर’ का निधन 1945 में हुआ।
  • राजनीतिज्ञ दीनदयाल उपाध्याय का निधन 1968 में हुआ।
  • भारतवर्ष के पाँचवे राष्ट्रपति फ़ख़रुद्दीन अली अहमद का निधन 1977 में हुआ।
  • हिन्दी के प्रसिद्ध कवि, लेखक एवं सम्पादक पंडित नरेंद्र शर्मा का निधन 1989 में हुआ।
  • प्रसिद्ध फ़िल्म निर्माता-निर्देशक कमाल अमरोही का निधन 1993 में हुआ।
  • हिंदी तथा ब्रज के सरस गीता-दोहाकार विष्णु विराट का निधन 2015 में हुआ।

      • 11 फ़रवरी की कुछ अन्य महत्त्वपूर्ण घटनाएँ –
  • रोम और इंग्लैंड के बीच 1543 में फ़्रांस के ख़िलाफ़ समझौता हुआ।
  • मुगल बादशाह जहांगीर ने 1613 में ईस्ट इंडिया कंपनी को सूरत में कारखाना लगाने की अनुमति दी।
  • स्वीडेन तथा प्रशिया के बीच 1720 में शांति समझौता।
  • नीदरलैंड के वेनलो पर प्रशिया की सेना ने 1793 में कब्जा किया।
  • रोम पर फ़्रांस ने 1798 में कब्ज़ा किया।
  • यूरोपीय देश नॉर्वे ने 1814 में स्वतंत्रता की घोषणा की थी।
  • लंदन यूनिवर्सिटी की स्थापना 1826 में ‘यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन’ के नाम से की गई थी।
  • जापान में मेजी संविधान को 1889 में अंगीकार किया गया।
  • अवध पर ईस्‍ट इंडिया कंपनी ने 1856 में कब्‍जा किया था।
  • फ्रेडरिक एबर्ट 1919में जर्मनी के राष्ट्रपति चुने गये थे।
  • लैटर्न संधि के तहत 1929 में स्वतंत्र बेटिकलन सिटी की स्थापना हुई थी।
  • महात्मा गांधी जी के हरिजन वीकली का प्रकाशन 1933 में शुरू हुआ था।
  • जर्मन की सेना इटली के अप्रिलिया पर 1944 में दोबारा कब्जा किया।
  • सोवियत संघ ने 1953 में इजरायल के साथ कूटनीतिक संबंध तोड़े।
  • भारत में 1955 में पहली बार अखबारों का प्रकाशन शुरू हुआ।
  • भारतीय क्रिकेटर वीनू माकंड ने 1959 में अपना आखिरी टेस्ट वेस्टइंडीज के खिलाफ दिल्ली में खेला।
  • अमेरिका ने 1963 में इराक की नयी सरकार को मान्यता दी थी।
  • ताइवान ने फ्रांस के साथ 1964 में कूटनीतिक संबंध तोड़े थे।
  • तुर्क और ग्रीक के बीच 1964 में जंग की शुरुआत हुई थी।
  • पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का ताशकंद में निधन 1966 में हुआ।
  • लेखक, जनसंघ संस्‍थापक, पत्रकार पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय की हत्‍या 1968 में की गई थी।
  • ईरान के अध्यात्मिक नेता आयतुल्लाह खामेनी के लिए भी 11 फरवरी, 1979 का दिन नई जिंदगी का पैगाम लेकर आया था।
  • दक्षिण अफ्रीका के महान नेता नेल्सन मंडेला को 1990 में 27 साल लंबी कैद से आज ही के दिन में रिहाई मिली थी।
  • अल्जीरिया में सुरक्षा बलों ने 1992 में चार मुस्लिम छापामारों की गिरफ़्तारी के साथ भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किए।
  • भारतीय खगोल भौतिकविद जयंत वी नार्लीकर 1996 के यूनेस्को के ‘कलिंग पुरस्कार’ से 1997 में सम्मानित।
  • एक डच कम्प्यूटर प्रोगामर ने 11 फरवरी, 2001 को अत्रा कुरनिकोवा वायरस लॉन्च किया, जिसके चलते इससे लाखों ई-मेल प्रभावित हुए।
  • साल 2003 में 11 फरवरी के दिन ही इंगलैंड की क्रिकेट टीम ने विश्वकप का अपना मैच खेलने से मना कर दिया, क्योंकि वह जिम्बाम्वे में खेला जाने वाला था। आपको बता दें कि विश्व कप क्रिकेट में आयोजन स्थल की वजह से मैच न खेलने का यह अपने आप में पहला मामला था।
  • हिंडाल्को द्वारा अमेरिकी ऐल्यूमिनियम फ़र्म नॉवलिस का 2007 में अधिग्रहण।
  • रुस के प्रधानमंत्री विक्टर जुबकोव 2008 में दो दिवसीय यात्रा पर भारत पहुँचे।
  • असमिया के प्रसिद्ध लेखक डॉ. लक्ष्मी नन्दन बोरा को 2009 में सरस्वती सम्मान देने की घोषणा हुई।
  • मिस्त्र के राष्ट्रपति होस्त्री मुबारक ने 11 फरवरी, 2011 को मिस्त्र क्रांति के चलते 30 साल तक सत्ता में रहने के बाद भारी विरोध के चलते इस्तीफा दे दिया।

  • रूस के कोमी क्षेत्र में हुए विस्फोट में 11 फरवरी 2013 को करीब 18 खदान कर्मियों की मौत हो गई थी।पूर्वी अल्जीरिया में ओउम एल बुआधी प्रांत के एक पहाड़ी इलाके में 11 फरवरी, 2014 को एक सैन्य परिवहन विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें लगभग 77 लोगों की मौत हो गई थी ।
  • तुर्की में 11 फरवरी, 2015 के दिन एक विश्वविद्यालय के छात्र की हत्या कर दी गई, उसने बलात्कर की कोशिश करने वाले का विरोध किया था।

I hope you find this Artical is useful. if you like this Article please share it Maximum.

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close