कला एवं साहित्यमुख्य समाचार

बसन्त पंचमी-: विद्यालयों में सरस्वती पूजन समारोह के दौरान विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए, 17 फरवरी को है विसर्जन।

  • -राजा चन्डोल इंटर कॉलेज में मूर्ति स्थापित कर पूजन किया, कवि गोष्ठी में बच्चों ने अपने स्वरचित कविताओं से किया भावुक।
  • – बभनी, म्योरपुर विकासखण्ड के अनेक जगहों पर विद्यालयों में रखी गयी सरस्वती प्रतिमा।

सोनभद्र – सोनप्रभात
आशीष गुप्ता/ उमेश कुमार

बसंत पंचमी के अवसर पर जनपद के अधिकतर शिक्षण संस्थानों में विद्या की देवी मां सरस्वती का पूजन समारोह रखा गया , जिसमें आज 17 फरवरी को मूर्ति विसर्जन होगा।

 

  • राजा चन्डोल इंटर कॉलेज लिलासी –

म्योरपुर विकासखंड स्थित राजा चंडोल इंटर कॉलेज लिलासी के विद्यालय परिसर में सरस्वती जी की मूर्ति स्थापित कर विधिवत पूजन अर्चन किया गया, जिसमें विद्यालय के अध्यापक व छात्र छात्राएं सम्मिलित रहे। पूजन समारोह के दौरान पूरे दिन बच्चों द्वारा भारतीय भारतीय कार्यक्रम किए जाते हैं, जिसमें बच्चों द्वारा आयोजित एक कवि गोष्ठी की गई। जिसमें विद्यालय के बाल कवियों ने हिस्सा लिया। विद्यालय के प्रबंधक कवि डॉक्टर लखन राम ‘जंगली’ की उपस्थिति में कवि गोष्ठी की शुरुआत विद्यालय के बच्चों के द्वारा की गई। सभी बाल कवियों ने सम सामयिक विषयो पर अपना कविता पाठ किया। कवि गोष्ठी के अंत मे वनवासी बोली की कविता पर्यावरण विषय पर सुनाकर डॉ0 लखन राम जंगली कवि गोष्ठी की अंतिम कविता पढ़ी। विद्यालय के प्रधानाचार्य जयंत प्रसाद ने सभी बाल कवियों की प्रसंशा कर उत्साहवर्धन किया। कवि गोष्ठी का संचालन विद्यालय के अध्यापक आशीष कुमार गुप्ता ने किया।

 

इस दौरान विद्यालय के प्रबंधक डॉक्टर लखन राम ‘जंगली’, प्रधानाचार्य जयंत प्रसाद, अध्यापक रामलखन यादव,भाग्य नारायण सिंह, अमर सिंह, सतनारायण यादव, पिंटू कुमार, दिनेश जायसवाल, पिंटू कुमार, कमलेश कुमार, विफ़न कुमार , बाल कवि/ कवयित्री अभिषेक सोनी, हेमन्त कुमार, अमित कुमार, अंकित जायसवाल, दिनेश कुमार, रागिनी कुमारी, नीतु कुमारी समेत विद्यालय के मौजूद रहे।

 

  • बभनी क्षेत्र में सरस्वती पूजा धूमधाम से मनाई गयी-

बभनी। विकास खंड अंतर्गत संचालित आसपास के क्षेत्र में मंगलवार को बसंत पंचमी के पावन अवसर पर विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा श्रद्धा पूर्वक धूमधाम से की गई। क्षेत्र के शिक्षण संस्थानों में विद्यार्थियों व शिक्षकों के द्वारा आकर्षक सज्जा के साथ मां की प्रतिमा स्थापित कर विधि पूर्वक पूजा अर्चना की गई। तत्पश्चात श्रद्धालुओं के बीच प्रसाद वितरण किया गया। जनता इण्टर कालेज संस्थान के द्वारा स्थापित प्रतिमा, आकर्षण का केंद्र रहा श्रद्धालुओं के लिए।

वही देवनाटोला स्थित उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय में भी मां की पूजा श्रद्धापूर्वक सम्पन्न हुई, विसर्जन बुधवार को गाजे बाजे के साथ जुलूस निकालकर माता की प्रतिमा को स्थानीय जलाशयों में विसर्जित किया जाएगा।

क्षेत्र के बभनी, देवनाटोला, चैनपुर ,चपकी,आसनडीह,इकदीरी,घघरा सहित दर्जनों गांवों में सरस्वती की प्रतिमा को श्रध्दा पूर्वक पूजा अर्चना कर कार्यक्रम आयोजित किये गए।

 

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close