मुख्य समाचार

देश के महान विभूतियों ने शिक्षा का उपयोग उत्कृष्ट कार्य मे कर विश्व में आदर्श प्रस्तुत किया – एसडीएम दुद्धी रमेश कुमार।

  • 👉शिक्षा का उपयोग व्यक्ति के उत्कृष्ट नागरिकता के मानक का आदर्श बने, विवाह या नौकरी तक शिक्षा सीमित ना रहे – पुलिस क्षेत्राधिकारी रामआशीष यादव।
  • 👉”चलने के साथ जो इत्र की तरह महकें वह चरित्र हैl” – डॉ मजूमदार (प्राचार्य)।

दुद्धी – सोनभद्र – जितेंद्र चन्द्रवंशी – सोनप्रभात

दुद्धी जनपद सोनभद्र मे आज भाऊराव देवरस राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय दुद्धी, सोनभद्र के राष्ट्रीय सेवा योजना के सात दिवसीय विशेष शिविर का उदघाटन 25 फरवरी 2021 को पंचायत भवन मल्देवा में प्रारम्भ हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्राचार्य डॉ. नीलांजन मजूमदार ने किया।

सर्वप्रथम समारोह के मुख्य अतिथि उपजिलाधिकारी दुद्धी तथा विशिष्ट अतिथि क्षेत्राधिकारी दुद्धी और प्राचार्य ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण और दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम को आगे बढ़ाया।स्वयंसेवियों द्वारा मां शारदा की स्तुति गीत प्रस्तुत किया गया।कार्यक्रम अधिकारी आरजू सिंह ने राष्ट्रीय सेवा योजना के उद्देश्य पर विस्तार से प्रकाश डाला और साथ ही अतिथियों का औपचारिक स्वागत किया।स्वयंसेवियों द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया।

 

शिविरार्थियों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम के साथ उदघाटन समारोह को आगे बढ़ाया गया।विशिष्ट अतिथि ने अपने वक्तव्य से स्वयंसेवियों का उत्साहवर्धन करते हुए बताया कि आप सभी एनएसएस तथा शिविर के माध्यम से विषम परिस्थितियों का आप सब कैसे सामना करेंगे इसके लिए भी तैयार किए जाते हैं।सिर्फ शिक्षा प्राप्त करना ही आपका ध्येय नहीं होना चाहिए बल्कि संस्कारों का बीजारोपण भी जरूरी है। मुख्य अतिथि ने अपने सम्बोधन से स्वयंसेवियों का मार्गदर्शन करते हुए बताया कि आप लोग शिविर के माध्यम से अनुशासन एवं कर्तव्य बोध को आत्मसात् कर लिए तो आपका सम्पूर्ण जीवन निखर जाएगा और यह आपको एक योग्य और सफल नागरिक बनाने में मदद करेगा।बहुत ही व्यावहारिक उद्धारण के माध्यम से उन्होंने अपनी बात रखी।आपके पुनीत कर्म ही आपके साथ जाएंगे।

प्राचार्य ने अपने उद्बोधन से शिविरार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए बताया कि आपका चरित्र ऐसा होना चाहिए कि जिधर से भी आप निकले वहां इत्र जैसी महक बरकरार रहे तथा साथ ही आप सभी अपने अंदर नैतिक गुणों का विकास करिए। साथ ही उन्होंने स्वामी विवेकानंद के व्यक्तित्व से प्रेरणा ग्रहण करने के लिए प्रोत्साहित किया।

कार्यक्रम अधिकारी डॉ विवेकानंद ने सात दिवसीय कार्यक्रम की आख्या प्रस्तुत किया साथ ही अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन किया।द्वितीय पाली में सभी स्वयंसेवियों ने पंचायत भवन मल्देवा परिसर के आस पास स्वच्छता अभियान के तहत साफ सफाई किया।

इस अवसर पर मुख्य शास्ता डॉ रामसेवक सिंह यादव, डॉ अजय कुमार, डॉ हरिओम वर्मा, डॉ राकेश कन्नौजिया, डॉ प्रभात कुमार पाण्डेय, डॉ मिथिलेश कुमार गौतम, श्री अजय श्यामा, श्री मृत्युंजय यादव, श्री संतोष कुमार सिंह,मु. शहबाज खां और सभी स्वयंसेवी उपस्थित रहे।

 

सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से अभय कांत शुक्ला बीकॉम द्वितीय वर्ष के छात्र ने फिल्मी गीत और नृत्य साथ ही बी ए प्रथम वर्ष की छात्रा अनामिका कुमारी एवं बी ए द्वितीय वर्ष की छात्रा कुमारी आकृति द्वारा मनमोहक फिल्मी धुन पर उद्घाटन समारोह का छटा मनोरंजन के माध्यम से रचनात्मक बनाया, सात दिवसीय राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर विभिन्न जगहों पर सेवा समर्पण क्या के माध्यम से श्रम का दान करते हुए आत्म बल को मजबूत करने के साथ ही साथ चरित्र का निर्माण और आसपास के वातावरण का स्वच्छता सामाजिकता नैतिक उत्थान नशा उन्मूलन दहेज हत्या घरेलू हिंसा पर्यावरण संवर्धन आदि विषयों के माध्यम से जन जागरूकता फैलाया जाएगा l

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close