मुख्य समाचार

मतदाता सूची भरी पड़ी है कई त्रुटियों से, मृतक का भी नाम रह गया वोटर लिस्ट में।

डाला- सोनभद्र / अनिल कुमार अग्रहरि – सोनप्रभात

डाला सोनभद्र – बिल्ली मारकुंडी ग्राम पंचायत में नये परिसीमन के बाद भी बनी मतदाता सूची खामियों से भरा पड़ा है।जहां कई वार्डो में रहने वाले लोगो के नाम मतदाता सूची से गायब है।वही इस बार वर्षो पहले मृत हो चुके मतदाता भी त्रिस्तरिय पंचायत चुनाव में मतदान कर अहम भूमिका निभायेगें।

चोपन विकास खण्ड के बिल्ली मारकुंडी ग्राम पंचायत के 6 से अधिक वार्डो को ओबरा नगर पंचायत में सामिल किये जाने के बाद बिल्ली मारकुंडी ग्राम पंचायत का नये सिरे से परिसीमन कराया गया था।जहां नये वार्डो के बनाये जाने से लेकर नये सिरे से मतदाता सूची को बनाने का कार्य भी किया गया । लेकिन सभी कार्य कागजों की खाना पूर्ति ही रही। चोपन विकास खण्ड के बिल्ली मारकुंडी ग्राम पंचायत की जनसंख्या 8081 है वही अधिक मतदाताओं की संख्या होने का विवाद हमेशा चर्चाओं में रहा है।

त्रिस्तरिय पंचायत चुनाव के लिए जारी नये मतदाता सूची में 10340 मतदाताओं के नाम सामिल है।जबकि यहां कि जनसंख्या 2011 की जनगणना के अनुसार 8081 ही है। नये सिरे से बनाये गये मतदाता सूची भी कई खामियों से भरा पड़ा है।

इस ग्राम पंचायत के बाड़ी क्षेत्र निवासी चन्दन पुत्र राम प्रसाद,गीता पत्नी चन्दन,फूलवंती पत्नी पप्पू,कार्तिक सरकार पुत्र अखिल सरकार,दीपिका सरकार पत्नी कार्तिक सरकार,विनोद गुप्ता पुत्र राम प्यारे गुप्ता,बंशीलाल पुत्र कन्हई लाल,जगनरायन पुत्र हरी किशोर,काशी पुत्र बेचू,सुक्खन पुत्र बेचू,राम कुमार पुत्र मंगरू,राम बिलास पुत्र बेचू,नैमूद्दीन पुत्र फकरूद्दीन,शकीना पत्नी नैमूद्दीन,शेरअली पुत्र नैमूद्दीन,निशा पत्नी शेरअली,असफाक पुत्र नैमूद्दीन,बेबी पत्नी असफाक,रिजवान पुत्र नैमूद्दीन,रेहाना पत्नी मोईनूद्दीन,कलिमूद्दीन पुत्र मोईनूद्दीन,हुस्सन बानो पुत्री कलिमूद्दीन का नाम ही मतदाता सूची से गायब है।इतना ही नहीं इसी ग्राम पंचायत से प्रधान पद के प्रत्यासी कमला देवी की बहू सुषमा पत्नी राकेश कुमार का नाम भी मतदाता सूची से गायब है।मतदाता सूची बनाने वालों ने जिवित लोगो का नाम तो मतदाता सूची में डालना भूल गये ,लेकिन वर्षो पहले भगवान को प्यारे हो गये लोगो का नाम मतदाता सूची में सामिल करना नहीं भूले।गिरीश देव पाण्डेय(म.क्र.सं.2845) पुत्र राधेश्याम पाण्डेय जिनकी मृत्यु चार-पाँच माह पहले ही हो गया है।राकेश सिंह (म.क्र.सं.2849) पुत्र राम प्रसाद की मृत्यु 10 वर्ष पहले हो चुका है।बनारसी(म.क्र.सं.275)पुत्र सुक्खू जिनकी मृत्यु चार वर्ष पहले हो चुका है।कालीचरण(म.क्र.सं.278)पुत्र बनारसी जिनकी मृत्यु दो वर्ष पहले हो चुका है। नन्द किशोर(म.क्र.सं.2903)पुत्र जागेश्वर की मृत्यु पाँच वर्ष पहले हो चुका है।लखराजी(म.क्र.सं.2904)पत्नी स्व.नन्द किशोर की मृत्यु लगभग तीन वर्ष पहले हो चुका है। मृत्यु हो चुके नन्द किशोर व लखराजी का नाम मतदाता सूची में एक नहीं बल्की दो जगहो पर अलग-अलग क्रमो पर छपा है।खामियों से भरा मतदाता सूची को लेकर राकेश,पिंटू,अजय,विनय,संतोष आदि लोगो ने नाराजगी जाहिर करते हुए बताया कि जिवित लोगो का नाम काटकर मृतको का नाम डालना जिम्मेदार नहीं भूले।इससे जाहिर है कि इस बार त्रिस्तरिये पंचायत चुनाव में मृतक मतदाता भी मतदान कर प्रत्यासी का चुनाव करने में अहम भूमिका निभायेगें। जिसमे बीएलओ सहित जिम्मेदार अधिकारियों की सराहनीय पफल माना जाएगा।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close