मुख्य समाचार

झोलाछाप डॉक्टरो ने मरीजो से वसूल रहे मनमाना रकम

 

पप्पू यादव -सोनभद्र (सोनप्रभात)

  • ओ पी डी बन्द होने से झोलाछाप डॉक्टरों की कटने लगी हैं चांदी
  • झोलाछाप डॉक्टरों ने कोबिड19 के गाइडलाइन को ताख पर रख कर बनाया पैसा कमाने का एकमात्र धंधा 

 

विंढमगंज,सोनभद्र-स्थानीय थाना क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंन्द्रों व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में ओपीडी बंद हो जाने से ग्रामीण क्षेत्रो के मरीजों के लिए समस्या उतपन्न हो गयी है।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर मरीजो को नही देखे जाने के कारण मरीज इलाज के लिये इधर उधर भटक रहे है।

इन दिनों ग्रामीण क्षेत्रो व कस्बो में स्थित झोलाछाप डॉक्टरों की चांदी हो गयी है।उन्हें न तो कोरोना का डर है और ना ही स्वास्थ्य विभाग का ।झोलाछाप डॉक्टरों ने अपनी दुकानों पर मरीजो की भीड़ लगाकर इलाज करते दिख रहे है और व्यापक पैमाने पर आदिवासी मरीजो का आर्थिक शोषण भी कर रहे है।मरीजो के लिए सबसे बड़ी समस्या यह बनी हुई है कि इधर उधर भटककर इलाज कराने के बाद भी मरीज ठीक नही हो रहे है।इन दिनों झोलाछापो की दुकानों पर मरीजो की काफी भीड़ देखने को मिल रही है। वहाँ न तो सेनेटाइजर दिख रहा हैं न ही फेस मास्क और सोशल डिस्टेंस तो दूर दूर तक नजर नही आ रहा हैं।सभी नियम कानूनों को ताख पर रख दिया गया है जो एक बड़ी महामारी फैलने का दावत दे रहा है वही मरीज भी मजबूरी में झोलाछापो की शरण मे पहुँचकर आर्थिक शोषण का शिकार हो रहे है।अगर झोलाछाप डॉक्टरों पर कोबिड 19 के गाइड लाइन को पालन करने हेतु शख्त हिदायत देते हुए नकेल नही कसा गया तो गांव में भी अधिक केस देखना दूर नही होगा।

Live Share Market

जवाब दीजिए

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close