मुख्य समाचार

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने किया वृक्षारोपण।

जितेंद्र चंद्रवंशी -दुद्धी,सोनभद्र(सोनप्रभात)

  • 👉 सदर विधायक भूपेश चौबे ने विद्यार्थी परिषद पदाधिकारियों के साथ किया पौधरोपण              

 

 

सोनभद्र आज दिनांक 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में नगर मंत्री प्रिंस सिंह जी के नेतृत्व में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद रॉबर्ट्सगंज नगर इकाई द्वारा वृक्षारोपण सप्ताह की शुरूआत वृक्ष लगा कर की गई जिसमें मुख्य अतिथि के रूप विद्यार्थी परिषद के पूर्व प्रदेश मंत्री व वर्तमान सदर विधायक श्रीमान भूपेश चौबे जी उपस्थित रहे उन्होंने विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं के साथ वृक्ष लगा कर उन्हें बताया कि आज पूरी मानवजाति एक बड़ी एवं भयावह कोरोना वायरस महामारी के कहर से जूझ रही है और दुनिया ग्लोबल वार्मिंग जैसी चिंताओं से रू-ब-रू है। लोगों को पर्यावरण की अहमियत, इंसानों व पर्यावरण के बीच के गहरे ताल्लुकात को समझते हुए प्रकृति, पृथ्वी, वृक्षारोपण एवं पर्यावरण के संरक्षण के लिए जागरूक होना होगा,वहीं विभाग संगठन मंत्री रजनीश जी ने बताया कि आज कोरोना महामारी के समय में हमने यह अहसास कर ही लिया है कि हमारे जीवन मे ऑक्सीजन की कितनी जरूरत है। इस संकट के समय में हम देख रहे है कि रोगियों को ऑक्सीजन की पूर्ति नहीं हो पा रही है लेकिन अनादिकाल से हमारी ऑक्सीजन की पूर्ति हमारी प्रकृति एवं वृक्ष करते रहे हैं वहीं रॉबर्ट्सगंज तहसील के तहसील संयोजक शशांक मिश्रा जी ने बताया कि पिछले लम्बे समय से ऐसा महसूस किया जा रहा है कि वैश्विक स्तर पर वर्तमान में सबसे बड़ी समस्या पर्यावरण से जुडी हुई है। इसके संतुलन एवं संरक्षण के सन्दर्भ में पूरा विश्व चिन्तित है,वहीं प्रान्त कार्यकारिणी सदस्य सौरभ चतुर्वेदी जी ने बताया कि एक तरफ तेज रफ्तार से बढ़ती दुनिया की आबादी, तो दूसरी तरफ तीव्र गति से घट रहे प्राकृतिक ऊर्जा स्रोत- समूचे प्राणि जगत के सामने अस्तित्व की सुरक्षा का महान संकट है | नगर विकासार्थ विद्यार्थी प्रमुख अमन राज जी ने बताया कि विकासार्थ विद्यार्थी अर्थात स्टूडेंट्स फॉर डेवलपमेंट, जिसे प्रायः SFD से नाम से लोग जानते हैं, यह परिषद् का एक ऐसा प्रकल्प हो जो आर्थिक, भौतिक, मानवीय विकास से साथ – साथ प्रकृति से जुड़े उन मुद्दों की तरफ ध्यान आकृष्ट कराता है, जिनसे समान्य जनमानस प्रभावित होता है । पर्यावरण की बात करें या सतत आर्थिक विकास के नाम पर पश्चिम का अंधानुकरण की, विकासार्थ विद्यार्थी के इस मंच ने विकास के सही मायने क्या हो, प्रकृति और मानव का सह – अस्तित्व सुरक्षित कैसे रहे, इस दिशा में लोगों को सोचने के लिए प्रेरित करती है । ऊंची – ऊंची इमारतें, चमचमाती गाड़ियां, चौड़ी सड़कें, शेयर बाजार में बढ़ोतरी ही विकास है अथवा इसके परे भी विकास का मॉडल है, जो स्वदेशी और आत्मनिर्भरता के सिद्धांतों को समाहित करता है, इसके बारे में भी छात्र समुदाय को सोचने के लिए प्रेरित करना विकासार्थ विद्यार्थी का उद्देश्य है ।

 

 

इस अवसर पर प्रांत कार्यकारिणी सदस्य विकास मिश्रा जी पूर्व कार्यकर्ता शम्भूनारायन जी, पूर्व कार्यकर्ता बलराम सोनी जी,दिशांत जी, नगर सह मंत्री गोलू जी,अनमोल सोनी,रत्नाकर जी हर्षित पाण्डेय जी, सुमित शुक्ला जी, सुभम पाठक जी,प्रशांत पाण्डेय जी,अमन सिंह जी,अंकित पाण्डेय जी,अमन केशरी जी,विशाल केशरी जी ,अनुराग तिवारी जी, आशुतोष दुबे जी आदि उपस्थित रहे।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close