मुख्य समाचारशिक्षा

यूपी टीईटी (UP TET) कैसे हुआ पेपर लीक ? यहां समझें – अगले एक माह में परीक्षा होने के कयास।

Posted By – Ashish Gupta@Sonprabhat

UPTET exam 2021 postponed : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा 2021 (यूपी-टीईटी) की परीक्षा को स्थगित कर दिया गया है। पेपर लीक की आशंका में उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा निरस्त एसटीएस की सूचना पर परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने दोनों पारियों की परीक्षा को निरस्त करने का निर्णय ले लिया है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी संजय कुमार उपाध्याय ने बताया कि दोनों पारियों की परीक्षाएं निरस्त कर दी गई हैं।

टीईटी 2021 परीक्षा रविवार को दो पालियों में होनी थी। प्रदेश भर में प्रथम पाली में दस से साढ़े बारह बजे तक 2554 केंद्रों पर प्राथमिक स्तर की परीक्षा का आयोजन किया जाना था और द्वितीय पाली में 2:30 से पांच बजे तक 1754 केंद्रों पर उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा का आयोजन होना था। उल्लेखनीय है कि टीईटी प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए 13.52 लाख और टीईटी उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए 8.93 लाख अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। इससे पहले 2019 में आयोजित हुई यूपीटेट में 16 लाख और 2018 में आयोजित हुई इस परीक्षा में तकरीबन 11 लाख अभ्यर्थियों ने भाग लिया था। टीईटी परीक्षा में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में अभ्यर्थी भाग लेने जा रहे थे।

  • एक माह के अंदर पुनः परीक्षा होगी। – सूत्र

पेपर सॉल्वर्स गैंग के कुछ लोगो की हुई गिरफ्तारी, एस टी एफ कर रही जांच, मेरठ से कुछ लोगो को गिरफ्तार कर पूछताछ जारी। 

 

  • अब तक 23 लोग गिरफ्तार 

जानकारी के मुताबिक सॉल्वर गैंग से जुड़े शामली निवासी मनीष उर्फ मोनू, रवि पुत्र विनोद, धर्मेंद्र पुत्र कुंवरपाल समेत 23 लोगों को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया है। साथ कई अन्य जगह छापेमारी कर दर्जनों को हिरासत में लेकर एसटीएफ पूछताछ कर रही है।  एसटीएफ इस पूरे मामले की जांच में जुटी है। बताया जा रहा है कि व्हाट्सऐप पर पेपर लीक किया गया था। पुलिस के मुताबिक गाजियाबाद, बुलंदशहर, मथुरा में व्हाट्सएप ग्रुप पर एग्जाम का पेपर वायरल हुआ था, जिसके बाद परीक्षा को रद्द करना पड़ा है।  

एक नजर यूपी TET पर

  • उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन 7 अक्टूबर 2021 से आमंत्रित किए गए थे।
  • इसमें पंजीकरण की अंतिम तिथि 25 अक्टूबर थी।
  • प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा को मिलाकर कुल 21,65,181 अभ्यर्थियों को शामिल होना था।
  • 2019 में आए थे 16 लाख आवेदन, कोरोना महामारी के कारण 2020 में एग्जाम नहीं हुआ।
  • पहली बार 12 नवंबर 2011 को यूपी में TET कराई गई थी।
Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close