मुख्य समाचार

साइकिल लाइब्रेरी बना प्रेरणा का स्रोत, मोहल्ला पाठशाला में 100 डेज रीडिंग कैंपेन को सक्रिय भागीदारी हेतु एक्टिविटी, रोल प्ले, नवाचार की पहल।

सोनभद्र – सोन प्रभात / आशीष गुप्ता – सोन प्रभात


जिला सोनभद्र के शिक्षा क्षेत्र म्योरपुर में स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग, शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा ” निपुन” मिशन के तहत “100 दिवसीय राष्ट्रव्यापी रीडिंग कैंपेन” का अभियान चल रहा है, इस क्रम में म्योरपुर शिक्षा क्षेत्र के अकादमिक पर्सन (ए0 आर0 पी0) श्री रजनीश कुमार श्रीवास्तव ने अभियान को सफल बनाने हेतु COVID-19 के दौरान स्कूल बन्द होने की दशा में उप शिक्षा निदेशक / डायट प्राचार्य महोदय एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सोनभद्र एवं डी0 सी0 प्रशिक्षण तथा एस0आर0जी0 टीम सोनभद्र के निर्देशानुसार रजनीश कुमार श्रीवास्तव द्वारा विकास खंड के सभी अध्यापकों , शिक्षा मित्र एवं अनुदेशक बंधुओं के साथ इस कैंपेन के संबंध में गूगल मीट के माध्यम से ए0आर0पी0 द्वारा मीटिंग का आयोजन करते हुए मोहल्ला पाठशाला पर बल देने का प्रयास किया गया।

विकास खंड के सभी न्याय पंचायत, जरहां, म्योरपुर, आरंगपानी, सागोबांध, किरबील, बेलहथी,कोटा एवं कुलडोमरी के समस्त शिक्षक स्टॉफ द्वारा मोहल्ला पाठशाला, गावों/मजरों/टोलों के सुरक्षित स्थानों पर प्रारम्भ किया गया जो बच्चों को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़े रखने का प्रयास इस कोविड के दौर में किया। ए0आर0पी0 रजनीश कुमार श्रीवास्तव द्वारा न्याय पंचायतों के मोहल्ला पाठशाला में पहुंचकर अध्यापकों एवम् बच्चों का शैक्षिक स्पोर्ट करते हुए उत्साहवर्धन का कार्य किया। मोहल्ला पाठशाला में बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने हेतु गावों में भ्रमण करते हुए डोर टू डोर बच्चों एवम् अभिभावकों से संपर्क स्थापित करते हुए रीडिंग कैंपेन एवं पठन कौशल को बढ़ाने हेतु चर्चा – परिचर्चा किया।

इस कैंपेन को सफल बनाने हेतु अभिभावकों एवं जनसमुदाय को जोड़ने का प्रयास किया गया। जिससे उत्प्रेरित होकर अभिभावक भी बच्चों को कहानी , कविता एवं परिवेशीय ज्ञान देने का कार्य किया।
कोविड के दौर में बहुत से बच्चे मोहल्ला पाठशाला में पहुंच नहीं पा रहे थे। जिससे ए0आर0पी0 द्वारा मोहल्ला क्लास में स्वमं रुचिकर विषय वस्तुओं को बच्चों के बीच रखते हुए नवाचार एवं गतिविधियों पर बल दिया जिससे बच्चे पढ़ना सीखे और उसके बाद सीखने के लिए पढ़ सके। अध्यापकों द्वारा विभिन्न प्रकार के रोल प्ले का कार्य करना प्रारम्भ किया जिसकी सराहना ग्रामीणों द्वारा किया गया।
यह कैंपेन घर घर पहुंचे इस थीम को ध्यान में रखते हुए ए0आर 0पी0 द्वारा विभिन्न स्कूलों में पहुंच कर साइकिल लाइब्रेरी एवं मोहल्ला लाइब्रेरी की योजना तैयार किया।


इस योजना को सफल बनाने हेतु संकुल शिक्षक मो 0 मुजीव खां, अजय कुमार गुप्ता, जमींद्र कुमार, प्रहलाद कुमार, देवनारायण, शालिनी गुप्ता, आभा पांडेय, विनोद दुबे, छोटेलाल साहू, मंजू देवी एवं कमलेश कुमारी तथा विक्रमा राम जी को टीम में रखते हुए अपने–अपने संकुल के विद्यालयों में साइकिल लाइब्रेरी की स्थापना कराया गया और यह साइकिल लाइब्रेरी बच्चों के घर घर एवं जन समुदाय के बीच पहुंचने का कार्य किया। कक्षा के बच्चे एवं अभिभावक भी बड़े जोर शोर से इसमें प्रतिभाग करने लगे। बच्चों के पठन क्षमता को विकसित करने हेतु कहानियों कविताओं विभिन्न विषय वस्तु से संबंधित किताबों को इस साइकिल लाइब्रेरी से लेकर उसी स्थान पर पठन कार्य कराया।

इस कार्यक्रम की सराहना ग्राम प्रधानों एवं एस0एम0सी0 सदस्यों तथा शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े सभी लोगों ने काफी सराहना किया। ए0आर0पी0 रजनीश कुमार श्रीवास्तव द्वारा इस प्रकार की मुहिम शिक्षा क्षेत्र में एक प्रेरणा का स्रोत बना हुआ जिसकी प्रशंसा जिले के सभी शिक्षा अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है।

Live Share Market

जवाब दीजिए

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close