मुख्य समाचार

दुद्धी – विवादित होलिका दहन स्थल पर एसडीएम की मौजूदगी में जनाक्रोश पर हुआ कब्जा मुक्त, चला बुलडोजर।

  • दुद्धी नगर के विवादित होलिका दहन स्थल पर एसडीएम की मौजूदगी में जनाक्रोश पर हुआ कब्जा मुक्त, चला बुलडोजर।

दुद्धी – सोनभद्र / जितेंद्र चंद्रवंशी – सोन प्रभात

  • शाम को प्रशासन ने जाने का रास्ता और जगह को तुड़वा कर मुक्त कराने का कार्य शुरू किया।
  • – उप जिला अधिकारी और पुलिस प्रशासन मौके पर मौजूद।

दुद्धी सोनभद्र । दुद्धी निवासियों के आस्था के मद्देनजर, प्रशासन जनाक्रोश के कारण हुआ सक्रिय। काफी लंबे समय से होलिका दहन स्थल पर लोगों के द्वारा कब्जा अतिक्रमण कर होलिका दहन स्थल को चारों ओर से बंद कर दिए जाने व सैकड़ों वर्षो से होलिका दहन स्थल पर कब्जा को लेकर आज जनमानस का आक्रोश चरम पर था।

  • – पिछली खबर (प्रकाशन -सोन प्रभात लाइव )

दुद्धी परंपरागत ” होलिका दहन ” धार्मिक स्थल अतिक्रमण को लेकर आक्रोश में हिंदू संगठन।

12 मार्च को कोतवाली गेट के सामने सनातनी धर्म समर्थकों का हुजूम चक्का जाम कर बैठा। जिसके उपरान्त प्रशासन के आश्वासन पर कब्ज युक्त होलिका दहन स्थल पर ढोल मजीरा के साथ सभी पहुंचे, फिर चला बुलडोजर।

ज्ञात कराना है, कि मामले को लेकर हिंदू समुदाय के लोगों ने कई माह पूर्व स्थानीय प्रशासन को पत्र देकर होलिका दहन स्थल को अतिक्रमण से मुक्त कराए जाने की मांग किया था, लेकिन कई महीने बीतने के बावजूद भी अभी तक प्रशासन के द्वारा भूमि को मुक्त नहीं कराया गया। जिससे नाराज होकर हिंदू समुदाय के सैकड़ों लोगों ने आज शाम 4:00 बजे कोतवाली गेट के सामने हाईवे रोड को जाम कर जमकर प्रदर्शन और नारेबाजी करने लगे। प्रदर्शनकारी लोगों ने प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है, और कहा है कि होली का त्यौहार नजदीक आ गया है और होलिका दहन के साथ होली का पर्व 18 मार्च को है। समय से पहले होलिका दहन स्थल को कब्जों से मुक्त नहीं कराया गया और ना ही इस मामले में प्रशासन ने कोई रुचि ही ली। जिससे लोगों में धीरे-धीरे नाराजगी बढ़ती गई और आज लोगों ने हाईवे को जाम कर होलिका दहन स्थल को मुक्त कराए जाने की मांग को लेकर सड़क पर उतर गए।

 

हिंदू समुदाय के लोगों का आरोप है, स्थानीय प्रशासन मामले को समाधान करने के बजाए मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया। जिसका निर्णय आज तक नहीं हो सका ऐसे हालात में होली का पर्व करीब आ गया है, होलिका दहन स्थल पर कैसे सम्मत गाढ़ा जाएगा और होलिका दहन होगा इसको लेकर हिंदू समुदाय के लोग काफी चिंतित और परेशान नजर आ रहे हैं। हाईवे जाम स्थल से प्रशासन के साथ सैकड़ों लोगों ने होलिका दहन स्थल पर पहुंचकर कब्जे से मुक्त कराया जाने का कार्य प्रशासन के साथ सहयोग कर किया गया। बताया जाता है कि ईट से बने दीवारों को उप जिला अधिकारी प्रमोद कुमार की मौजूदगी में ध्वस्त कर दिया गया।

 

शाम करीब 6:00 बजे जेसीबी मौके पर पहुंचकर दीवाल को गिराने का कार्य शुरू किया गया। इस मौके पर उप जिला अधिकारी प्रमोद कुमार , दुद्धी बार संघ के अध्यक्ष जितेंद्र श्रीवास्तव, पूर्व अध्यक्ष कुलभूषण पांडे, सिविल बार संघ के पूर्व अध्यक्ष नंदलाल, दिलीप पांडेय,सुरेंद्र अग्रहरी कन्हैया लाल अग्रहरी , सुरेंद्र गुप्ता सुरेंद्र सिंह , मोनू सिंह, डॉ विनय कुमार के अलावा सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद रहे।

Live Share Market

जवाब दीजिए

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close