मुख्य समाचार

शिक्षा को धारण किए बीना बाबा साहब का स्वप्न अधूरा – प्राचार्य डॉ प्रमोद कुमार महाविद्यालय ओबरा

दुद्धी – सोनभद्र / जितेंद्र चंद्रवंशी – सोन प्रभात

दुद्धी सोनभद्र भारतरत्न, संविधान के रचयिता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की 131 वीं जयंती के अवसर पर ब्लॉक संसाधन केंद्र दुद्धी में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ प्रमोद कुमार प्राचार्य राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय ओबरा ने कहा कि आज शिक्षा नौकरी पाने का महज कारक बन रहा है जबकि शिक्षा ज्ञान अर्जन के लिए है ज्ञानार्जन की ललक को सदा बनाए रखना होगा तभी बाबा साहब के सपने को साकार किया जा सकता है।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि डॉक्टर नीलांजन मजूमदार ने कहा कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के बताए पथ चिह्नऒ पर चले बीना सच्चे अर्थों में अनुयायी नहीं बना जा सकता, वरिष्ठ अध्यापक ज्ञान चंद्र प्रकाश ने शिक्षा को 4 वर्गों में बांट कर कम साक्षर, अधिक साक्षर , कम शिक्षित, अधिक शिक्षित को परिभाषित किया और कहां कम ” साक्षर व्यक्ति अत्यधिक शिक्षित व्यक्ति से ज्यादा समझ सच्चे अर्थों में आचरण में ढालकर स्वयं ग्रहण कर समाज में शिक्षा की उपयोगिता को सार्थक करता है l”

समानता का भाव लिए 14 अक्टूबर 1956 को 5 लाख हिंदुओं को बौद्ध धर्म समानता का भाव परिलक्षित होने के कारण बौद्ध धर्म स्वीकार कराए जाने पर प्रकाश डाला, विभिन्न वक्ताओं द्वारा भारत रत्न डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के शिक्षित हो संगठित बनो सहित बाबा साहब के ज्ञान के प्रकाश से आलोकित अपने मन वचन कर्म को परिमार्जित करने पर विभिन्न वक्ताओं डॉ अजय कुमार,डॉ राकेश कुमार कनौजिया, आर एस राव, ममता मौर्य, उदय लाल मौर्य, मनोज कुमार जायसवाल, तेजप्रताप मौर्य, वंदना कुशवाहा,आदि ने प्रकाश डाला l

नारी सशक्तिकरण , कन्या हत्या, दहेज आदि सांस्कृतिक कार्यक्रमों का मनमोहक मंचन छात्राओं द्वारा किया गया, बाबा भीमराव अंबेडकर के जीवन पर बिरहा गायक द्वारा प्रस्तुत किया गया l कार्यक्रम का आयोजन अखिल भारतीय अनुसूचित जाति / जनजाति कर्मचारी कल्याण संघ अध्यक्ष अवधेश कुमार कनौजिया एवं महामंत्री अरुण कुमार कनौजिया दुद्धी सोनभद्र उत्तर प्रदेश सहित कर्मचारी कल्याण संघ द्वारा आयोजित किया गया था, कार्यक्रम का शुभारंभ डॉक्टर भीमराव अंबेडकर, ज्योतिबा फुले , बिरसा मुंडा आदि महापुरुषों पर पुष्प अर्पित विशिष्ट जनों द्वारा किया गया, मुख्य अतिथि विशिष्ट अतिथि आदि लोगों को मोमेंटो एवं बाबा साहब के विचारों का प्रतीक पंच सिद्धांत का प्रतीक स्कार्प पहनाकर सम्मानित किया गया l

इस मौके पर सैकड़ों अनुयायी स्वरूप महिला पुरुष मौके पर मौजूद रहे, कार्यक्रम का संचालन अवधेश कुमार कनौजिया द्वारा किया गया l

Live Share Market

जवाब दीजिए

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close