मुख्य समाचार

जोरुखाड़ में चार लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज , जाँच में जुटी पुलिस।

दुद्धी  – सोनभद्र / जितेंद्र चंद्रवंशी सोनप्रभात

  • मृतक के परिजनों ने हत्या कर रेलवे ट्रैक पर फेकने का लगाया था आरोप।

दुद्धी सोनभद्र|विंढमगंज थाना क्षेत्र में बीते कुछ दिन पहले जोरुखाड़ रेलवे ट्रेक पर एक शव मिला था जिसका पहचान प्रदीप कुमार पुत्र रामकेश्वर निवासी जोरुखाड़ के रूप में हुआ था।जिस पर परिजनों ने पुलिस अधीक्षक सोनभद्र को लिखित तहरीर देकर हत्या कर रेलवे ट्रेक पर फेकने का आरोप लगाया था जिस घटना को संज्ञान में लेते हुए पुलिस अधीक्षक ने थाना विंढमगंज को मुकदमा दर्ज कर जांच करने को निर्देशित किया जिस पर स्थानीय थाना में 19 अप्रैल को चार लोगों के खिलाफ अधिनियम भा द सं 1860 के तहत धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज कर पुलिस जांच में जुट गई हैं|


मृतक के भाई मनोज कुमार यादव पुत्र रामकेश्वर ने लिखित तहरीर देकर आरोप लगाया कि प्रार्थी के भाई प्रदीप कुमार पुत्र राम केश्वर यादव का प्रेम संबंध घर से 500 मीटर दूर एक के साथ काफी दिनों से चल रहा था।जो दोनों लोग आपस में जीने मरने और शादी भी करना चाहते थे लेकिन युवती के घर वालों को मंजूर नहीं था। इसी बीच दिनांक 10 दिसंबर को लड़की के भाई विनोद कुमार यादव पुत्र रामकुमार यादव के द्वारा मेरे भाई प्रमोद कुमार यादव से धमकी देते हुए बोला था कि तुम अपने छोटे भाई प्रदीप कुमार यादव को समझा दो कि मेरी बहन की तरफ आँख उठाकर देखना बंद कर दे नहीं तो मेरे बड़े पापा के लड़का उपेंद्र कुमार यादव पुत्र बाबूलाल यादव बाहर से काम करके आएगा तो हम सभी लोग मिलकर प्रदीप कुमार को जान से मार कर फेंक देंगे इसी बीच जब लड़का लड़की मिलने आए तो लड़की के पिता रामकुमार यादव दौड़ाया और दोनों ने अपना-अपना जान बचाकर भागने में सफल रहे तथा इसी के बाद दूसरा घटना दिनांक 21 मार्च को रात्रि में किसी समय प्रार्थी के भाई को एक साजिश के तहत कहीं पर बुलाकर उपेंद्र कुमार यादव पुत्र बाबूलाल यादव, रामकुमार यादव, देव मुनि यादव पुत्र मुंद्रिका एवं विनोद कुमार यादव पुत्र रामकुमार यादव इन सभी लोगों ने मिलकर प्रार्थी के भाई को हत्या कर आत्महत्या के रूप देने के लिए घर से 3.5 किलोमीटर की दूर रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया और घटना की अल सुबह राम कुमार यादव पूर्व बीडीसी ने बिना परिजनों की मौजूदगी में डेथ बॉडी को बिना जिक्र किए ही घटनास्थल से उठवा कर दुद्धी पीएम हाउस भेजवा दिया गया जबकि प्रार्थी ने अपने पिता और भाई के साथ रेणुकूट से सूचना मिलने पर तुरन्त चल दिए थे। जबकि घटना के दिन रात्रि में उपरोक्त के घर से किसी वाहन के द्वारा रेलवे ट्रैक के तरफ घटनास्थल की तरफ से जाते हुए गांव के कई लोगों ने देखा है उपरोक्त सभी लोग बदमाश व कातिल किस्म के लोग हैं इन लोगों ने अपने घर में ही दो महिलाएं की हत्या का अंजाम दे चुके हैं उपरोक्त सभी लोगो ने मिलकर शव को जला दिया गया था|
प्रभारी निरीक्षक विंढमगंज सूर्यभान ने बताया कि उपरोक्त चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है |

Live Share Market

जवाब दीजिए

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close