मुख्य समाचार

पेंशन धारक मजदूरों ने अतंराष्ट्रीय मजदूर दिवस पर किया संकेतिक धरना-

डाला – सोनभद्र / अनिल अग्रहरि – सोन प्रभात

डाला सोनभद्र- स्थानीय डाला नगर के शहिद स्थल सब स्टैंड यात्री सेट में यूपी सिमेंट फैक्ट्री के पूर्व कर्मीयों ने मजदूर दिवस पर एक सांकेतिक धरना दिए जहां पूरा देश एक मई को मजदूर दिवस के रूप में मनाया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ डाला यूपी सिमेंट फैक्ट्री के पूर्व कर्मीयों ने पेंशन बढ़ोतरी को लेकर लड़ रहे संयुक्त भारत पक्ष के समर्थन में सांकेतिक धरना कर समर्थन किया।


इस दौरान राजेश द्विवेदी ने सरकार को चेताया कि अगर मजदूर पेंशनरों की मांग पूरी नहीं की तो हम सब मजदूर अपने हक पाने के बड़ा आंदोलन करेंगे एवं भुख हड़ताल से लेकर आमरण अनशन भी किया जायेगा।
वहीं हरदेव नारायण तिवारी ने कहा कि हम सभी को एक जुट होकर एक रणनीति बनाकर मजदूरों के हित हक अधिकार की लड़ाई लड़ी जाएगी।

  • एक नजर पेंशनरों के लड़ाई के तरफ –

पेंशन बढ़ोतरी को लेकर अशोक बहादुर संयुक्त भारत पक्ष ने एक विडियो जारी कर जानकारी देते हुए बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को यह निर्देश दिए की मजदूरों को सात हजार प्लस महंगाई भत्ता की मांग जायज है जिसे दिया जाना चाहिए लेकिन इसके बावजूद भी केन्द्र सरकार ने पेंशन बढ़ाकर नहीं दी हमारे प्रधानमंत्री जी ने भी दो बार आश्वासन भी दिया और कहा कि आप लोगों को पेंशन बढ़ाकर मिलना चाहिए वह भी धिरे धिरे लंबे अरसे बित गए है लेकिन पेंशन धारकों ने अभी आस लगाए ही है की प्रधानमंत्री जी हम लोगों के पेंशन बढ़ोतरी को लेकर अमल में लाएंगे।


वहीं दूसरे तरफ केन्द्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के मजदूरों के हित में फैसले के अगेंश रियूपीटीशन डाल देते हैं और सरकार की निति मजदूरों के हित में काम कर रही है यह साफ तौर पर दिखाई देने लगा है केवल पेंशनरों के कार्य को सरकार के द्वारा विलंब व समय खिंचे जा रहे कोर्ट के फैसले आते आते लगभग तीन लाख पेंशन धारकों की मृत्यु हो गई है आए दिन मजदूरों की मृत्यु हो रहें हैं और दिन पर दिन मृत्यु का रेशियों बढ़ता जा रहा है सरकार के द्वारा कानून व्यवस्था के आड़ में समय खिंचे जा रहें हैं।

वहीं इस आंदोलन को लेकर केन्द्रीय भविष्य निधि आयुक्त दिल्ली सहित सभी संबंधित विभाग एवं सरकार को पत्रक के माध्यम से मांग किया गया था लेकिन मांग पूरी नहीं होने की वजह से हम मजबूर होकर आंदोलन करने को बाध्य हुए हैं उसी क्रम में आंदोलन को लेकर अशोक बहादरे संयुक्त भारत पक्ष ने केन्द्रीय भविष्य निधि आयुक्त के मुख्य कार्यालय दिल्ली के समाने एक मई अंतराष्ट्रीय मजदूर दिवस के दिन से यह आंदोलन सुरू किया गया।

पेंशनरों की मांग

01- सभी पेंशनरों भाई एवं बहनों को दश हजार रुपए प्लस महंगाई भत्ता मिले और उनके मृत्यु के पश्चात उनके परिवार को मिलना चाहिए
02- स्वपतनिक मेडिकल सुविधाएं मिलें
03- जो भी निजी क्षेत्र में वर्क्स काम करते हैं उन्हें भी सभा सद बना लिया जाएं और भविष्य में इस योजना से जोड़ दिया जाए
04- जिन्होंने अपनी वेतन से पूरी कटौती दी है उन्हें हाइयर पेंशन लागू किया जाए
05- सभी पेंशनर भाई एवं बहनों को प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना के तहत लागू की जाए।

इस सांकेतिक धरना राजेश द्विवेदी लक्ष्मण कुशवाहा ओम प्रकाश तिवारी सत्य प्रकाश मिश्रा रमाशंकर सिंह,रामजीत हरिनंदन भारद्वाज पीर मोहम्मद हरिश्चंद्र सिंह उर्फ लोहा सिंह अलीम चुन्नी लाल काशी नाथ सिंह रामधनी सुदामा प्रभु राम बलवंत रामवृक्ष शांति देवी पानपती देवी गोविंद राम रजिया देवी सीता देवी सोमारी देवी सामिल रहें।

Live Share Market

जवाब दीजिए

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Son Prabhat

Sonbhadra Latest News Online - Instant, Accurate on Sonprabhat Live. The Leading News Website of Sonbhadra.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close