मुख्य समाचार

पुलिस का कृत्य घोर निंदनीय: राकेश शरण, आक्रोशित अधिवक्ताओं ने चक्रमण कर किया प्रदर्शन।

सोनभद्र – सोन प्रभात / जितेंद्र चंद्रवंशी – आशीष गुप्ता

  • कहा – दोषी पुलिस कर्मियो के विरुद्ध हो कारवाई, एसपी को लिखा पत्र

सोनभद्र। सोनभद्र बार एसोसिएशन के युवा अधिवक्ता अजय अग्रहरी के घर पर रात्रि मे पुलिस द्वारा दल- बल के साथ जबर्दस्ती घुसने और अमर्यादित कृत्य करने की घटना पर सँयुक्त अधिवक्ता महासंघ के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष राकेश शरण मिश्र ने घोर निंदा करते हुए पुलिस अधीक्षक सोंनभद्र से तत्काल दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध दंडात्मक कारवाई करने की मांग की है। उन्होंने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीते 12 अक्टूबर को रात्रि लगभग 9.30 बजे रॉबर्ट्सगंज कोतवाली में तैनात एक पुलिस उपनिरीक्षक लगभग 10 सिपाहियों के साथ अधिवक्ता अजय अग्रहरी के घर पहुँच कर घर मे मुजरिम के छिपाए जाने का आरोप लगा कर जबरदस्ती घर की तलासी लेने लगे, जबकि अधिवक्ता ने उन्हें बताया कि मेरे घर मे कोई मुजरिम नही हैं और मैं एक अधिवक्ता हूँ आप इस प्रकार मेरे घर की तलासी नही ले सकते। इसके बावजूद भी उपनिरीक्षक ने अधिवक्ता अजय अग्रहरी की बातों को अनसुना करते हुए घर के दरवाजे पर लात मारकर खोलतें हुए अपने साथ गए सिपाहियों के साथ ना केवल पूरे घर की विधिवत तलासी ली बल्कि तलाशी का पूरा वीडियो भी बनाया। पुलिस के इस कृत्य से अधिवक्ता की पत्नी बहुत ही सदमे में है। इस घटना से सोंनभद्र के अधिवक्ताओ में भी अत्यधिक रोष ब्याप्त है। राकेश शरण मिश्र ने पुलिस अधीक्षक को पत्र लिख जल्द से जल्द इस मामले में प्रभावी कारवाई करने की माँग की है।
उन्होंने कहा है कि यदि उच्चाधिकारियों द्वारा इसमे दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध जल्द दंडात्मक कारवाई नही की गई तो ना केवल सोंनभद्र के अधिवक्ता वरन पूरे प्रदेश के अधिवक्ता प्रदेश ब्यापी आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगें जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी जिले के आला पुलिस अधिकारियों की होगी।

  • – तहसील दिवस में डीएम को मांगपत्र सौंप, दरोगा के विरुद्ध कार्रवाई की मांग उठाई।
  • वकीलों के कार्य बहिष्कार से लगातार दूसरे दिन कोर्ट का कामकाज रहा प्रभावित, वादकारी रहे परेशान।-
  • पुलिसकर्मियों द्वारा रात्रि में युवा अधिवक्ता के घर मे घुसकर अभद्रता किए जाने का मामला


सोनभद्र। पुलिसकर्मियों द्वारा रात्रि में युवा अधिवक्ता अजय कुमार अग्रहरि के घर मे घुसकर अभद्रता किए जाने के मामले में शनिवार को अधिवक्ताओं ने राबर्ट्सगंज कचहरी परिसर का जुलूस की शक्ल में चक्रमण करते हुए पुलिस विरोधी नारेबाजी कर विरोध-प्रदर्शन किया। साथ ही तहसील दिवस में पहुंचकर डीएम को मांगपत्र देकर दरोगा समेत दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई की मांग उठाई। वकीलों के लगातार दूसरे दिन कार्य बहिष्कार की वजह से कोर्ट का कामकाज प्रभावित रहा और वादकारी परेशान रहे।
सोनभद्र बार एसोसिएशन अध्यक्ष महेंद्र प्रसाद शुक्ला एडवोकेट ने कहा कि शुक्रवार को वकीलों के आमसभा की बैठक में दरोगा समेत पुलिसकर्मियों के कृत्य की निंदा की गई और सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया था कि जब तक दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई नहीं की जाती तो आंदोलन और तेज होगा। उन्होंने कहा कि अधिवक्ता के घर मे रात्रि 9:30 बजे दरोगा व पुलिसकर्मियों द्वारा यह कहकर कि घर में अपराधी को छुपाकर रखे हो जबरन घुसकर तलाशी लेना और अभद्रता करने वाला कृत्य क्षम्य नहीं है। कहा कि अगर शीघ्र कार्रवाई नहीं की जाती तो 17 अक्तूबर सोमवार को अगली रणनीति बनाई जाएगी। उधर अन्य आक्रोशित अधिवक्ताओं ने भी कार्रवाई न होने पर आंदोलन तेज करने को कहा। विरोध प्रदर्शन करने वालों में एसबीए अध्यक्ष महेंद्र प्रसाद शुक्ला, महामंत्री चन्र्दपाल शुक्ला, राजेन्द्र चौधरी, अनिल मिश्रा, आनन्द मिश्र, राजीव कुमार सिंह गौतम, उमेश मिश्र, दीपक केशरी, पीए खान समेत अन्य अधिवक्ता शामिल रहे।

Live Share Market

जवाब दीजिए

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Son Prabhat

Sonbhadra Latest News Online - Instant, Accurate on Sonprabhat Live. The Leading News Website of Sonbhadra.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
.
Website Designed by- SonPrabhat Web Service PVT. LTD. +91 9935557537
.
Close