gtag('config', 'UA-178504858-1'); सोनभद्र : दुद्धी में फिर जानलेवा बनी विद्युत विभाग की लापरवाही, मासूम शुभम ने असमय ही तोड़ा दम।  - सोन प्रभात लाइव
मुख्य समाचारआम मुद्दे

सोनभद्र : दुद्धी में फिर जानलेवा बनी विद्युत विभाग की लापरवाही, मासूम शुभम ने असमय ही तोड़ा दम। 

सोनभद्र / जितेंद्र चंद्रवंशी /- सोन प्रभात 

दुद्धी (Duddhi), सोनभद्र (Sonbhadra) रविवार 25 दिसंबर को जहां पूरे देश में क्रिसमस डे का जश्न मना रहा था, मामला सोनभद्र (Sonbhadra) जिले के दुद्धी (Duddhi) ब्लॉक अंतर्गत ग्राम घिवही का है। जहां विद्युत विभाग (Electricity Department) के घोर लापरवाही के कारण एक मासूम की जान छिन गई।

जमीन से लगे अर्थिंग वायर से उतर रहा था जानलेवा करंट

ग्राम घिवही में शिक्षक अखिलेश कुमार का मासूम ६ वर्षीय बालक शुभम दिन में घर से मात्र १०० मीटर दूरी पर भाई सत्यम व दोस्तो के साथ खेल रहा था। घटनास्थल पर बिजली के एक खंबे से निकले अर्थिंग वायर (स्टे वायर) जिसमे से जानलेवा करेंट उतर रहा था पास ही जल कल विभाग की पाइपों से बच्चे खेल रहे थे कि अचानक खंबे से उतरते साक्षात मौत से मासूम शुभम का स्पर्श हो गया और वह वहीं पर दम तोड दिया।आनन फानन में उसे दुद्धी स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां डाo शाह आलम ने परीक्षण करते हुए बालक के ऑन स्पॉट ही मौत होने की पुष्टि की।

ग्रामीणों ने करंट प्रवाहित तार के लिए पहले भी कई बार शिकायत की,

ग्रामीणों द्वारा बार बार शिकायत करने पर भी विद्युत विभाग द्वारा खंबे से अर्थिंग वायर (स्टे वायर)से उतरते करेंट को ठीक नहीं किया जा रहा था।विद्युत विभाग की हद लापरवाही से क्षेत्र में भरी रोष व्याप्त है। इसी प्रकार की घटना विगत कुछ वर्ष पूर्व मेडिनिखाड में भी घटित हुई थी जब मासूम बालक नीरज की विद्युतीय चपेट में आने से हाथ और पैर गंवाने पड़े थे।मौके पर पहुंचे ग्राम प्रधान प्रतिनिधि कृपाशंकर ने विभाग से उचित सम्मानजनक मुआवजे की मांग की एवम् कहा कि ऐसा न होने पर क्षेत्र की जनता आंदोलन एवम् धरने के लिए बाध्य होगी।

फिलहाल बालक के पिता और परिवारीजन इस असीम दुःख के कारण कुछ बोलने की स्थिति में नहीं थे।उनके करुण विलाप से हर किसी की आंखें नम हो जा रही हैं।समाचार लिखे जाने तक प्रशासन ने बालक के शव को अंत्य परीक्षण हेतु भेज दिया था।

Also Read : 

सोनभद्र के विंढमगंज से छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर तक बिछाई जाएगी नई भारतीय रेलवे लाइन।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by- SonPrabhat Web Service PVT. LTD. +91 9935557537
.
Close