gtag('config', 'UA-178504858-1'); Sonbhadra News : बख्सिस न देने पर डिलेवरी रूम की साफ सफाई कराती हैं एएनएम,दुर्व्यवस्था। - सोन प्रभात लाइव
मुख्य समाचारस्वास्थ्य

Sonbhadra News : बख्सिस न देने पर डिलेवरी रूम की साफ सफाई कराती हैं एएनएम,दुर्व्यवस्था।

बीजपुर/ सोनभद्र – विनोद गुप्त / सोन प्रभात

सोनभद्र जनपद के विभिन्न स्वास्थ्य केंद्र अपने विशेष पहचान के लिए जाने जाना लगा है। स्वास्थ्य केन्द्रों की दुर्व्यवस्था का अजीबो गरीब मामले जनपद में आते रहते है। बीजपुर क्षेत्र के स्थानीय पुनर्वास प्रथम के स्वास्थ्य केंद्र पर अगर डिलेवरी कराना हो तो भूल कर भी न जाइये अगर गए तो अपना जेब फूल कर के जाइये वरना डिलेवरी रूम की गंदगी आप को ही साफ करनी होगी। जी हाँ यहाँ लगभग 30 वर्षो से अंगद की एक ही तरह एक ही जगह पाँव जमाए दो एएनएम की कुछ इसी तरह चलती है की लोग सुन कर दांतो तले अंगुली दबा लेगें।

सूत्रों पर भरोसा करें तो नार्मल डिलेवरी कराने के लिए दो हजार से तीन हजार रुपये बख्सिस देना पड़ता है, अगर आप ने मुँह माँगी बख्सिस नहीं दिया तो डिलेवरी रूम का गंदा खून पानी कपड़ा सब कुछ आप को ही साफ करना होगा अन्यथा हालत गम्भीर बता कर प्राइवेट हॉस्पिटल के लिए अन्यत्र रेफर कर दिया जाता है। बताया जाता है कि दो एएनएम लगभग 30 साल से इसी स्वास्थ्य केंद्र पर तैनाती पा कर एनटीपीसी रिहन्द आवासीय परिसर का लाभ लेते हुए अपने जीवनकाल की पूरी ड्यूटी यहीं बैठे कर डाली हैं। कहा जाता है कि दोनों चर्चित एएनएम की खूब चलती है इनके सामने डॉक्टर भी चुप रहने में अपनी भलाई समझते हैं।बताया जाता है कि राष्ट्रीय टीकाकरण योजना अंतर्गत गाँवो में जाकर टीका कारण केंद्र पर गर्भवती महिलाओं नवजात शिशुओं का टीका कारण करना इनकी ड्यूटी होती है लेकिन मैडम का जहाँ मूड बन गया वहीं पर टीका कारण शुरू कर देती हैं। आयरन और कैल्शियम की गोली गर्भवती महिलाओं को फ्री में देना है लेकिन उसके लिए दवा का अभाव बता कर बाहर के मेडिकल स्टोर से खरीदने की सलाह दी जाती है। इतना ही नही बताया तो यहाँ तक गया कि एक स्वास्थ्य कर्मी के पत्नी को नार्मल डिलेवरी कराने में एक हजार रुपये बख्सिस लेकर ही बड़ी मिन्नत के बाद यहाँ डिलेवरी कराई गई थी।

पुनर्वास प्रथम, नेमना, डोडहर आदि गाँवो में इस तरह की कई शिकायतें सामने आई लेकिन लोग अखबार, मीडिया में नाम छपने के डर से मुँह खोलना उचित नही समझे और सब कुछ दब दबा गया। इस बाबत सीएचसी म्योरपुर अधीक्षक डॉ० राजन कहते है, इस तरह की शिकायत है तो गलत है सरकारी सुविधा सभी के लिए हॉस्पिटल में उपलब्ध है बख्सिस के नाम पर पैसा माँगना उचित नही है जांच कराई जाएगी।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by- SonPrabhat Web Service PVT. LTD. +91 9935557537
.
Close