मुख्य समाचारराजनैतिक खबरें

हत्या की जांच पर सवाल:- पकरी ग्रामीणों के स्वाभाविक आक्रोश का जिम्मेदार है प्रशासन -भा क पा माले।

  • – पकरी के रामसुंदर गौड़ की हत्या का न्यायिक मजिस्ट्रेटरियल जांच हो ।
  • – अवैध खनन पर जिला प्रशासन रोक लगाएं नहीं तो तेज करेंगे आंदोलन – माले

जितेंद्र चन्द्रवंशी/आशीष गुप्ता- 

सोनभद्र -सोनप्रभात

सोनभद्र जिले के दुद्धी तहसील अंतर्गत ग्राम पकरी के रामसुंदर गोंड़ की दिनांक 23 मई को हत्या करके कनहर नदी में फेंक दिया गया था। जिस पर परिवार के लोगों ने हत्या की आशंका पर तहरीर पुलिस थाने में दिया था।

  • क्या कहती है? भाकपा माले के जांच टीम की रिपोर्ट-

– उक्त घटना पर पुलिस प्रशासन उचित कार्यवाही करने के बजाएं लीपापोती करने में लग गया।हत्या जैसी घटनाओं पर ग्रामीणों का आक्रोश स्वभाविक होता है। वही आक्रोश पर दिनांक 30 मई को लगभग दर्जनों लोगों पर नामजद और अन्य अज्ञात लोगों पर फर्जी मुकदमा लादकर प्रशासन ने गिरफ्तार किया है।

उक्त घटनाओं पर भाकपा माले राज्य कमेटी सदस्य कामरेड बिगन राम गोड़ के नेतृत्व में जांच दल दिनांक 1 जून 2020 को पकरी गांव जाकर जांच किया था। भाकपा माले के जांच दल को ग्रामीणों ने बताया कि रामसुंदर सीधा-साधा , शांतिप्रिय आदमी था। नगवा में बालू खनन रामसुंदर गोड़ के खेत के सामने ठेकेदार द्वारा कराया जा रहा था। जिसका विरोध रामसुंदर कर रहे थे। जो बालू खनन ठेकेदार को नागवार गुजरा। रामसुंदर रोज की भांति अपनी भैंस पशुओं को चराने के लिए कनहर नदी की ओर ले जाते थे। हत्या के दिन भी अपनी भैंस खोजने नदी की ओर गए और उनकी लाश मिली।

  • पकरी गांव के  ग्रामीणों के अनुसार- 

ग्रामीणों ने बताया कि रामसुंदर की हत्या के बाद आनन-फानन में पुलिस प्रशासन ने लाश को पंचनामा और पोस्टमार्टम करके दाह संस्कार करा दिया।
हत्या पर कानूनी कार्रवाई या जांच करने के बजाय पुलिस हत्या के मामले की लीपापोती करने में लग गए। जिस पर 30 मई को स्वाभाविक आक्रोश ग्रमीणों द्वारा प्रकट किया गया। जिस पर पुलिस ग्रामीणों का दमन कर रहा है ।

 

भाकपा माले राज्य कमेटी सदस्य बिगन राम गोड़ ने कहा कि ग्रामीणों के आक्रोश का जिम्मेदार पुलिस प्रशासन है। रामसुंदर के हत्या की न्यायिक मजिस्ट्रेट स्तर की जांच हो और अवैध खनन पर रोक लगे। जांच दल में प्रमुख रूप से बिगन राम गोड़, राजदेव सिंह, शशिकांत कुशवाहा, प्रभु सिंह,
रहे।

ग्रामीणों का प्रदर्शन और पुलिस के आमने सामने की बीते दिनों की तस्वीर

सोनभद्र के खबरों से लगातार जुड़े रहने के लिए यहाँ क्लिक कर सोनप्रभात  मोबाइल न्यूज डाउनलोड करें। 

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close