मुख्य समाचार

भूसे की तरह ढोई जा रही हैं सवारियां, सोशल डिस्टेंसिंग का नामो निशान नही।

सोनभद्र- सोनप्रभात

वेदव्यास सिंह मौर्य

रायपुर थाना क्षेत्र के खलियारी बाजार में डग्गामार वाहन द्वारा कोरोना महामारी के दौर में जिला प्रशासन के द्वारा जारी दिशा निर्देश सोशल डिस्टेंस की खूब उड़ाई जा रही हैं धज्जियां और रायपुर पुलिस मौन है।


कोरोना महामारी को लेकर जहाँ विश्व परेशान है, और बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस का पालन कर रहा है।लेकिन जनपद के रायपुर थाना क्षेत्र में कमलेश पाल प्रभारी निरीक्षक रायपुर का मनमाना कानून चल रहा है, जिसके कारण रायपुर थाना क्षेत्र के खलियारी बाजार में प्रति दिन दो दर्जन से अधिक डग्गामार वाहन नीचे ऊपर भूसा की तरह सवारी बैठाकर बाजार में बाजार करने के लिए आ जा रहे हैं और रायपुर पुलिस मूक दर्शक बनी हुई है। जबकि जिला प्रशासन के द्वारा सवारी वाहनों को निर्धारित सीट पर जितने सवारियो में पास है एक दुसरे से जगह बनाकर सवारी बैठाकर ही आवागमन करने की अनुमति प्रदान की गयी है। लेकिन खलियारी बाजार में बाजार करने आने वाली सवारी वाहनों ने जिला प्रशासन के निर्देश का भी धज्जियां उड़ाते हुए भूसा की तरह ठूंस कर वाहन के ऊपर नीचे बैठाकर सवारीयां ढोयी जा रहीं है जो जन हित के लिए घातक है।


जनहित के लिए सवारी वाहनो को जिला प्रशासन के द्वारा दिए गये दिशा निर्देश के अनुसार चलवाया जाना चाहिए। साथ ही जांच कर डग्गामार वाहनों से सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़वाने वाले के खिलाफ कार्रवाई भी हो ताकि भविष्य में ऐसी गलती न हो ।लेकिन इंस्पेक्टर साहब को केवल रूपए से मतलब है।जनता मरे या जिए रूपया मिलना चाहिए।सूत्रों के अनुसार प्रति गाड़ी एक हजार रुपए लिए जाते हैं।जिसके लिए वैनी व खलियारी मे एक एक प्राइवेट आदमी रखें गए हैं।जिनका काम सिर्फ वसूली करना है। जिसके सम्बंध में तमाम समाचार पत्रों में खबरें छपती रहती हैं लेकिन किसी सक्षम अधिकारी ने संज्ञान नहीं लिया।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close