खेती-किसानीमुख्य समाचार

भ्रष्टाचार-: रिश्वतखोरी की नई मिशाल कायम करने में लगे जिला कृषि अधिकारी, बीज विक्रेताओं ने दुद्धी विधायक को शिकायत पत्र सौंपा।।

दुद्धी- सोनभद्र –
जितेंद्र चन्द्रवंशी/आशीष गुप्ता – सोनप्रभात

  • – जिले के विभिन्न ब्लॉक दुद्धी, म्योरपुर, बभनी आदि ब्लॉकों के बीज विक्रेताओं से अंधाधुंध रिश्वत लेने का आरोप।
  • -पी डब्लू डी गेस्ट हाऊस में मीडिया के समक्ष विधायक को सौंपा ज्ञापन।
  • -सभी बीज विक्रेताओं ने एकजुट होकर जिला कृषि अधिकारी के भ्रष्टाचार के खिलाफ उठाई आवाज।
  • -दुद्धी विधायक समेत जिलाधिकारी सोनभद्र, कृषि मंत्रालय, मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश को लिखा शिकायत पत्र।
  • -बीज विक्रेताओं से पहले भी वसूल चुके हैं मोटी रकम उसके बावजूद और रकम वसूलने की रह गई है मन मे कसक।
  • -जिला कृषि अधिकारी के कृत्य से व्यथित होकर बीज विक्रेता पहुँचे विधायक के पास।
  • – क्षेत्रीय विधायक हरिराम चेरो के समक्ष जिला कृषि अधिकारी रहें मौजूद ,व्यापरियों का फूटा गुस्सा।

सोनभद्र जिले के कृषि अधिकारी पीयूष राय का दुद्धी, म्योरपुर और बभनी ब्लॉक के बीज विक्रेताओं से मनमाने ढंग से मोटी रकम की लगातार मांग बीज विक्रेताओं को पूरी तरह से झकझोर दिया।

जिला कृषि अधिकारी के रिश्वतखोरी और बीज विक्रेताओं के लाइसेंस रद्द कराने का हवाला देना जैसे निम्न स्तर का कृत्य बीज विक्रेताओं के मानो पानी सर के ऊपर आने जैसा हो गया। बीज विक्रेताओं का गुस्सा आज जिला कृषि अधिकारी के प्रति जमकर फुंटा। कृषि बीज विक्रेता दुद्धी ब्लॉक अध्यक्ष के नेतृत्व में सभी बीज व्यापारी जिला कृषि अधिकारी के खिलाफ शिकायत पत्र लेकर पी डब्ल्यू डी गेस्ट हाउस पर पहुँच कर विधायक के सामने प्रस्तुत कर न्याय की गुहार लगाई।

सोनप्रभात के वरिष्ठ संवाददाता जितेंद्र चन्द्रवंशी को दिए वीडियो बयान में बीज व्यापारियों ने अपना दर्द और जिला कृषि अधिकारी पीयूष राय के कृत्य को सांझा किया।

देखें वीडियो रिपोर्ट –

#VideoReportSonprabhat

बताते चले कि जिले में भ्रष्टाचार अपने चरम पर है चाहे वो किसी भी विभाग से हो। बीज व्यापारियों का भ्रष्टाचार के खिलाफ एकजुट होकर सामने आना वास्तव में सराहनीय है।

4 पेज में लिखे गए शिकायत पत्र की सारी बाते मामले को पूर्णरूपेण स्पष्ट करती है, वही बीज व्यापारियों ने विधायक को ज्ञापन जिला कृषि अधिकारी पीयूष राय की मौजूदगी में सौंपी है। साथ ही प्रतिलिपि जिला अधिकारी (DM ) सोनभद्र, मा0 मुख्यमंत्री उत्तरप्रदेश, प्रदेश कृषि मंत्री तथा सम्बन्धित उच्च स्तरीय अधिकारियों को प्रेषित किया है।

  • क्या – क्या हैं आरोप ?

– शिकायत पत्र देखकर यह कहना गलत नही होगा कि जिला कृषि अधिकारी ने भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी में कोई कोर कसर नही छोड़ी है, परन्तु आपको यहाँ कुछ मुख्य बिंदुओ से हम अवगत कराते हैं-

  • – कृषि प्रशिक्षण के नाम पर रिजल्ट दिलाने हेतु 5000 रु0 बीज व्यापारियों से सुविधा शुल्क हेतु लिया गया परन्तु अभी तक रिजल्ट भी नही दिया गया।

बहाना – कुछ लोग का वाइवा , लिखित में फेल हो जाना।

  • – शोभित विश्वविद्यालय सहारनपुर से
    डिप्लोमा कोर्स हेतु 20000 रु0 के अतिरिक्त 5000 रु0 सुविधा शुल्क लेना। जिसमे विभिन्न ब्लॉक के कई बीज व्यापारियों से मनमाना धनउगाही करना।
  • – प्रत्येक वर्ष सीजनल (खेती किसानी के समय ) वार्षिक सभी व्यापारियों से मोटी रकम वसूलना, साथ ही लाइसेंस रद्द कराने जैसी बातों का धौंस दिखाना।

उक्त आरोपों में यदि सच्चाई की कमी होती तो शायद इस तरह सभी बीज व्यापारी विरोध नही करते परन्तु जिला कृषि अधिकारी के कृत्य बीज व्यापारियों को ठोस कदम उठाने पर मजबूर कर देने वाला शिकायत पत्र और उनके दिए गए वीडियो बयान से साफ स्पष्ट है।


बीज व्यापारियों में नन्दलाल बीज व्यापारी संघ अध्यक्ष, सुनील कुमार , अजित कुमार सिंह,विनोद कुमार , रमेश कुमार,विनय कुमार, मुरलीधर , प्रद्युम्न राम, गोरख, मनोज , कमलेश, मिथिलेश, अनुपम, आनंद जायसवाल, राकेश मौर्य, आकाश कुमार, संजय , अक्षय, जसवंत, मनोज, हरिनारायण, श्रवण आदि ने उचित कार्यवाही के साथ न्याय की मांग की है।

 

सोनभद्र जिले के खबरों से लगातार जुड़े रहने के लिए यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे सोनप्रभात मोबाइल न्यूज एप्लिकेशन।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close