मुख्य समाचार

मोबाइल चोरी का आरोप लगा कर पीटा, पीड़ित की नही हो रही म्योरपुर थाने में सुनवाई।

लिलासी – सोनभद्र
आशीष गुप्ता- सोनप्रभात

  • – दो, तीन बार थाने पर जा चुका है पीड़ित, नही मिला न्याय।
  • -मोबाइल चोरी का आरोप लगाकर पिता- पुत्र ने की मारपीट, मोबाइल भी छीना।
  • -पीड़ित द्वारा दो बार शिकायत पत्र देकर की गई शिकायत।

म्योरपुर विकासखण्ड के बघमंदवा निवासी सुनील कुमार पुत्र विनोद पनिका ने म्योरपुर थाने के कार्यशैली पर सवाल खड़ा किया है।

पीड़ित सुनील पनिका द्वारा दिया गया 11 जुलाई को शिकायत पत्र की छायाप्रति

बताते चले कि 11 जुलाई को सुनील कुमार पर मोबाइल चोरी का आरोप लगाकर जगदीश अग्रहरि पुत्र रामदुलारे निवासी सूपाचुआ साथ मे जगदीश के ही पुत्र चंदन ने गाली गलौज के साथ मारपीट की। धमकी देते हुए जगदीश ने पुलिस थाना में अपने उठने बैठने की बात कह कोई मेरा कुछ नही करेगा जैसी बातें भी की। सुनील के जाति को लेकर भी जगदीश द्वारा खरी खोटी सुनाया गया।
उसके बावजूद सुनील के मोबाइल को भी छीन लिया गया। आस- पास के लोगों द्वारा बीच बचाव करने पर सुनील वहां से बचकर निकल पाया।

15 जुलाई को दोबारा शिकायत पत्र थाना प्रभारी को दिया गया।

उक्त मामले की शिकायत पीड़ित सुनील पनिका द्वारा म्योरपुर थाने में की गयी लेकिन दो से तीन बार थाने में बुलाने पर भी कोई उचित कार्यवाही कानून अपने हाथ मे लेकर मारपीट करने वाले जगदीश पर नही की गई। जिससे सुनील हताश है।

अब सवाल ये उठता है, कि

  • – क्या जगदीश अग्रहरि का सुनील पर आरोप लगाकर मारपीट करना सही था?

-यदि चोरी का शक था तो जगदीश को थाने पर सूचना देना था न कि स्वयं से निर्णय लेकर मारपीट करना।

पीड़ित सुनील पनिका ने बताया कि पहला शिकायत पत्र उसने 11 जुलाई को लेकर जब वह थाने गया तो अन्य पुलिसकर्मियों द्वारा उस पर दबाव बनाया गया और जगदीश अग्रहरि द्वारा शिकायत पत्र फड़वा दिया गया।  परन्तु शिकायती द्वारा गिड़गिड़ाने पर चौकी प्रभारी लिलासी राजेश कुमार मौर्य  द्वारा शिकायत पत्र की छाया प्रति लिया गया। कोई कार्यवाही न होने पर वहीं दूसरे बार 15 जुलाई को म्योरपुर थाना प्रभारी को शिकायत पत्र दिया गया। परन्तु सिर्फ आज-कल के आश्वासन पर टाल दिया जा रहा है।

“पुलिस प्रसाशन का यह रवैया उनकी कार्यशैली पर नकारात्मक प्रभाव डाल रही है साथ ही जनता का विश्वास भी क्षीण होता जा रहा है।”

  • सोनप्रभात न्यूज के माध्यम से पीड़ित ने उक्त मामले को उच्च अधिकारियों के संज्ञान में लेकर कार्यवाही हेतु अपील किया है।
  • ट्विटर पर आया ADG ZONE VARANASI से आवश्यक कार्यवाही हेतु निर्देश।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close