मुख्य समाचार

कार्यवाही– शौचालय निर्माण कार्य में लापरवाही, बभनी ब्लॉक के ग्राम पंचायत अधिकारी बर्खास्त।

  • बभनी ब्लॉक के ग्राम पंचायत अधिकारी बर्खास्त,  कारण – शौचालय निर्माण कार्य में निष्क्रिय। 
  • घोरावल ब्लॉक के भी ग्राम पंचायत अधिकारी बर्खास्त। 

उमेश कुमार ⁄ सोनप्रभात 

बभनी संवाददाता – सोनभद्र

सोनभद्र : स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत कराए जाने वाले शौचालय निर्माण, ग्राम पंचायतों की निधि से होने वाले सोन स्कूल कायाकल्प में रूचि न लेने वाले बभनी ब्लाक के ग्राम पंचायत अधिकारी को बर्खास्त कर दिया गया। जिला पंचायत राज अधिकारी ने बर्खास्तगी का आदेश जारी करते हुए तत्काल प्रभावी करने का निर्देश दिया है। साथ ही सभी जिला समन्वयकों को निर्देश दिया गया है कि शेष शौचालयों को हर हाल में 31 जुलाई तक पूर्ण करा लिया जाए। यहां कुल 5312 शौचालयों का निर्माण पूर्ण कराना है। गत दिनों जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक हुई, इसमें स्वच्छ भारत मिशन के कार्यों की प्रगति रिपोर्ट पर विस्तार से चर्चा की गई।

पंचायती राज विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक समीक्षा में पता चला कि बभनी ब्लाक के ग्राम पंचायत अधिकारी गिरीश चंद्र दुबे पर कई तरह के आरोप सिद्ध हुए। डीपीआरओ की ओर से जारी किए गए बर्खास्तगी रिपोर्ट की मानें तो इन पर आरोप है कि शौचालय निर्माण के कार्य में सुस्ती की गई। बार-बार कहने के बावजूद केवल अधिकारियों को आश्वासन देते रहे। बेस लाइन सर्वे के अनुसार इन्हें विभिन्न ग्राम पंचायतों में कुल 1734 शौचालय निर्मित कराए जाने थे, जिसमें से कई शौचालयों का निर्माण नहीं हो सका। फोटो भी सत्यापित नहीं हो सका। इसके साथ ही स्कूलों का कायाकल्प कराने के लिए समय से धनराशि उपलब्ध होने के बावजूद निर्धारित तिथि तक काम पूर्ण नहीं हुआ।

यहीं रवैया घोरावल ब्लाक के ग्राम पंचायत अधिकारी रमाकांत देव पांडेय का भी रहा। इन्होंने भी कार्य में रूचि नहीं ली तो उन्हें भी बर्खास्त कर दिया गया।

  • प्रतिदिन 484 शौचालय बनाने हैं– 

डीपीआरओ धनंजय जायसवाल ने जिला समन्वयकों को जो पत्र भेजा है उसमें स्पष्ट कहा गया है कि अवशेष शौचालयों को 31 जुलाई तक हर हाल में पूर्ण करा लिया जाएगा। सभी तरह के कुल 5312 शौचालय अवशेष हैं। इस हिसाब से प्रतिदिन 484 शौचालय का निर्माण लक्ष्य रखा गया है। ग्राम पंचायत कोटा, जुगैल, कुलडोमरी, चिल्काडाड़ व बभनी में कार्य पूर्ण करने की तिथि 15 अगस्त तय की गई है।

 

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close