मुख्य समाचार

आरोप-: पैसा न मिलने से कैशपार व माइक्रो फाइनेंस समूह के लोग ग्रामीणों से करते हैं गाली-गलौज।

  • ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को लिखा पत्र।

उमेश कुमार – सोनप्रभात

बभनी – सोनभद्र । 

बभनी। थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत डूमरहर व बचरा के ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को पत्र लिखते हुए बताया कि उत्कर्ष माइक्रो फाइनेंस बकरिहवां व कैशपार समूह के लोगों के द्वारा गांवों में महिला समूह बनाए गए हैं जो सात वर्षों से चलते आ रहे हैं। जिसके अंतर्गत ग्रामीण महिलाओं को छोटे-छोटे रोजगार के लिए पैसे दिए जाते हैं और इस समय वैश्विक महामारी को लेकर लगे लाकडाऊन में धंधा मंद पड़ गया है,  जिसका किस्त वसूलने के लिए समूह के लोग आते हैं । पैसा उपलब्ध न हो पाने के कारण महिलाओं के साथ अभद्र गालियों का प्रयोग करने लगते हैं।

ग्रामीण रजवंती, शिवनारायन ,शिवचरन ,इरफान ,हाफिज, पान कुमारी समेत अन्य लोगों ने बताया कि गांव में एक छोटे से कमरे में मीटिंग सेंटर बनाया गया है जहां कइ महिलाओं को कमरे में बैठाकर मीटिंग ली जाती है।कोरोना महामारी को लेकर भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न होने के साथ मास्क भी नही प्रयोग किये जाते। पैसा नही  मिलने पर भद्दी-भद्दी गालियां भी देने लगते हैं जिसके लिए ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर मामले की जांच कर उचित कार्रवाई की मांग की है।

इस संबंध में जब कैशपार के सेंटर मैनेजर विकास कुमार साहू से बात किया गया तो उन्होंने बताया कि गांव से ही कुछ लोग गुमराह कर एक ही व्यक्ति के नाम पर दो समूहों से पैसा निकाल डलवा दिया जाता है और जब मांगने के लिए जाते हैं तो फंसाने की साज़िश की जाती है।

 

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close