प्रकृति एवं संरक्षणमुख्य समाचार

एनजीटी के नियमो को दरकिनार कर पागन नदी से चालू है अवैध खनन।

जितेंद्र  चन्द्रवंशी- दुद्धी , सोनभद्र – सोनप्रभात

  • पांगन नदी से एनजीटी के नियमो को किया जा रहा दरकिनार, चालु है बालू का अवैध खनन, सड़के हो रही ध्वस्त।
  • बालू खनन कर धड़ल्ले से किया जा रहा भण्डारण।
  • शासन प्रशासन की मिली भगत से करोड़ो की राजस्व कर रहे चम्पत।

दुद्धी तहसील अंतर्गत बभनी थाना क्षेत्र में स्थित पांगन नदी मे एनजीटी के रोक के बावजूद बालू का अवैध खनन बैखौफ जारी है। रात मे जेसीबी व पोकलेन से बालू निकाल कर बडे पैमाने पर भण्डारण व परिवहन किया जाता हैं ।

बताते चले की जुलाई से लेकर सितंबर माह तक नदी से बालु निकलने पर रोक हैं, उसके बाद भी अवैध खननकर्ता विभाग से सांठगांठ बनाकर धडल्ले से बालू निकाल रहे और परिवहन भी कर रहे है।जिससे नदियों के अस्तित्व पर खतरा मंडराने लगा है ।बालू माफिया प्रतदिन सैकड़ों ट्रक बालू दुसरे जिले मे बेच कर मोटी रकम कमा रहे हैं तथा राजस्व को भारी चम्पत लगा रहे हैं।


विभाग के आला अधिकारी को इस कारनामे की जानकारी न हो इस पर लोगो को संदेह हैं, क्योंकि ओवरलोड वाहन जिला मुख्यालय से होकर ही दुसरे जनपदो मे जाते हैं, स्थानीय पुलिस की कार्यप्रणाली भी संदेहास्पद हैं। प्रकट हुई स्थिति से स्पष्ट होता है कि वन विभाग भी इस कार्य मे संलिप्त हैं । ग्रामीणों के विरोध करने पर खननकर्ताओं के गुर्गे लाठी डंडे व अन्य हथियारों के साथ लैस ग्रामीणों से मारपीट पर उतारू हो जाते हैं।

पांगन नदी में अवैध खनन पर अंकुश न लग पाने के कारण बालू माफियाओं का हौसला बुलंद होता रहता है, जिससे नशे में धुत युवक उच्चाधिकारियों समेत जिलाधिकारी को भी गाली गलौज करते मिलते हैं।

उत्तर प्रदेश छत्तीसगढ़ सीमा को जोड़ने वाली पांगन नदी से सैकड़ों वाहनों के गुजरने से सड़कें गड्ढों में तब्दील हो चुकी हैं और खनन माफिया मैनेज के खेल में प्रशासन के साथ मशगूल है। जिससे स्थानीय लोगों के चेहरे पर भी चिंता की लकीरें छायी हुई हैं। ग्रामीण जीरमन, सुरेश, रामप्रसाद, बासुदेव, बद्रीनरायन, महेन्द्र आदि ने जिलाधिकारी से मामले को संज्ञान मे लेकर आवश्यक कार्यवाही करने की मांग की है।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close