मुख्य समाचार

दबंगो द्वारा पत्रकार पर जान लेवा हमला हुआ मुकदमा दर्ज।

  • – भारतीय मीडिया फाउंडेशन उत्तर प्रदेश व स्वतंत्र पत्रकार समिति ने जनपद सोनभद्र में हो रहे पत्रकारों पर हमले की कड़ी निंदा कर दोषियों को 48 घण्टे के अंदर गिरफ़्तारी करने की मांग की।

सोनभद्र- सोनप्रभात
जितेंद्र चन्द्रवंशी/ आशीष गुप्ता

सोनभद्र। राबर्ट्सगंज कोतवाली अंतर्गत नई बाजार के पास पत्रकार सरोज सिंह पटेल के ऊपर लाठी डण्डों प्राण घातक हमला हुआ।


प्राप्त जानकारी के अनुसार क्राईम नम्बर 0422/2020 दिनांक 14-06-2020 को धारा 147, 308, 379, 323, 427 मुकदमा सरोज कुमार सिंह पटेल (पत्रकार) पुत्र रामदुलारे सिंह पटेल निवासी- ग्राम पकरहट थाना पन्नूगंज जिला सोनभद्र 13-06-2020 की शाम को राबर्ट्सगंज से अपने घर जा रहे थे।पीड़ित पत्रकार की जुबानी- दो बिना नम्बर कि बाइक से नई बाजार में मेरी गाड़ी रोकी मैने गाड़ी आगे बढ़ाया तो एक गाड़ी वाले ने आगे से मेरी गाड़ी रोककर रंगबाजी करते हुए कहा कि कैसे गाड़ी चला रहे हो। मैने उनसे कहा कि तुम लोग नशे में हो उल्टे मुझसे पूछ रहे हो इतने में एक रोहित गुप्ता डंडा से मेरे ऊपर प्राणघातक हमला कर दिया। उसके बाद उसके साथियों ने मेरी गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया। मैं मौके पर बेहोशी कि हालत में हो गया। कुछ देर बाद देखा कि मेरे गाड़ी में रखे कुछ जरूरी कागजात व पैसे गायब है।सुबह नई बाजार आ कर पता किया तो स्थिति साफ हुई। घटना में सुनील शर्मा पुत्र मुरली शर्मा निवासी- नई बाजार, राजेश भारती पुत्र राम लखन भारती निवासी ग्राम देवरी, तथा उसके सहयोगी द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया है।


समय करीब 09:30 की घटना है। इस घटना को नई बाजार में बहुत लोग देंखे है। पत्रकारों ने उक्त घटना में अभी तक किसी भी अभियुक्त कि गिरफ्तारी न होने पर पत्रकारों में रोष है। उधर भारतीय मीडिया फाउंडेशन उत्तर प्रदेश में जनपद सोनभद्र में हो रहे पत्रकारों पर हमले के लिए पुलिस प्रशासन की कार्रवाई में शिथिलता को जिम्मेदार ठहराया है । रेणुकूट में अजीत कुमार कुशवाहा पर पुलिस द्वारा बेरहमी से पिटाई किया जाना हो या सरोज सिंह पटेल के ऊपर हमला इस तरीके की घटनाएं मानो आम बात हो गई हो , स्वतंत्र पत्रकार समिति दुद्धी सोनभद्र ने भी हमले की निंदा की और अविलंब कार्रवाई नहीं किए जाने पर प्रशासन को अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहने को कहा । 48 घंटे के अंदर अगर दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो कलम बंद हड़ताल जनपद सोनभद्र के समस्त मीडिया कर्मी करने को बाध्य होंगे । लोकतंत्र के चौथे स्थान पर हमले को लेकर आम जनों में भी गहरा रोष देखा गया ।

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close