मुख्य समाचारआम मुद्दे

राष्ट्रीय पंचायत दिवस पर नही दिखी जन सहभागिता, मुनादी न होने से नही जुटे आम जनमानस।

  • खुली बैठक की हुई औपचारिकता, गांव में मुनादी न कराये जाने से नही पहुंचे ग्रामीण।

म्योरपुर/सोनभद्र – पंकज सिंह – आशीष गुप्ता / सोन प्रभात 

म्योरपुर विकास खण्ड क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में राष्ट्रीय पंचायत दिवस पर होने वाली खुली बैठके सिर्फ औपचारिकता तक सिमट कर रह गयी। पंचायतो द्वारा मुनादी न कराये जाने से ग्रामीणों की उपस्थिति बिल्कुल भी नही रही, ग्राम प्रधानों के खास लोग सदस्यगण ही मौजूद रहे।

म्योरपुर ग्राम पंचायत की बैठक – फोटो : सोन प्रभात

पंचायतो में आम आदमी की सहभागिता हो,अंतिम व्यक्ति भी पंचायतो में अपनी हिस्सेदारी समझे ऐसी परिकल्पना पंचायती राज में की गई है,ग्रामीण क्षेत्रो में प्रधानों की सोच इसके विपरीत है,वे चाहते है कि खुली बैठकों में उनके विपक्षी कत्तई न पहुंचे जिस कारण खुली बैठकों की सूचना अपने चहेतों,समर्थको तक तो पहुचा देते है,मुनादी कत्तई नही कराते जिस कारण आम ग्रामीण बैठकों से वंचित रह जाते है। विकास खंड क्षेत्र के खैराही, किरवानी,कुसम्हा गंभीरपुर,रन टोला, सुपचुआ,जाम पानी,म्योरपुर,परनी सहित दर्जनों गांवों में राष्ट्रीय पंचायत दिवस पर सिर्फ सदस्यों पंचायतकर्मियों ,प्रधानों के चहेतो की ही मौजूदगी देखने को मिली।

ग्राम पंचायत म्योरपुर

ग्रामीण रामलाल,पुरुषोत्तम,मनरूप,देवसाय, मंगरु ने कहा कि खुली बैठक गुपचुप तरीके से कराने की परंपरा बन गई है, जिस कारण आम ग्रामीण योजनाओ के लाभ से वंचित रह जाते है, ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियो का ध्यान आकृष्ट कराते हुए नियमानुसार खुली बैठक कराये जाने की मांग की है, जिसमे अधिक से अधिक आम जनमानस की सहभागिता हो।

Live Share Market

जवाब दीजिए

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close