मुख्य समाचारसोन सभ्यता

श्री राम कथा अमृत वचन -: “जिस घर में नित्य कलह होता है उस घर से लक्ष्मी जी स्वयं चली जाती है – पंडित श्री दिलीप कृष्ण भारद्वाज महाराज”

  • 👉अखंड भारत के पुरातन भूभाग अफगानिस्तान,बांग्लादेश, पाकिस्तान, नेपाल, भूटान तक माता जगदंबे के शक्तिपीठ के महात्म को यादकर जीवंत किया।
  • 👉 दिल तों मेरा दीवाना हो गया डमरू वाले पर – 
  • कथा के दौरान आरती और नृत्य की झलकियां।

दुद्धी – सोनभद्र – जितेन्द्र चन्द्रवंशी / सोनप्रभात

दुद्धी सोनभद्र ग्राम पंचायत मल्देवा में पंडित श्री दिलीप कृष्ण भारद्वाज जी महाराज के मुख से अमृतारसधार में जगत पिता शिव, माता पार्वती के विवाह में माता पार्वती के घर से जब बारातियों का सत्कार में सृष्टि के रचनाकार भगवान ब्रह्मा जी विष्णु जी भगवान इंद्र और देवी देवता सुंदर मुखवाले पहुँचे माता पार्वती के दरवाजे पहुंचे तो घरातियों का खुशी का ठिकाना नहीं था, कन्या पक्ष के लोगों ने तो सोचा कि सुंदर मुख वाले इंद्र ही वर है परंतु जब पीछे से नर मुंड की माला पहने, शरीर में शमशान का भभूत लपेटे, गले में सर्प धारण किए हुए, पहुंचे तो कन्या पक्ष के लोग सभी डर गए यह कैसा दूल्हा नारद जी ने खोजा है आनंत जन्म की अर्धांगिनी माता पार्वती भोलेनाथ के जीवनसंगिनी है, जब उनके लिए थाल सजाकर जब तिलक लगाने का प्रसंग में किसका करू सत्कार जीनकी आंखें खुद त्रिकालदर्शी उनको तिलक कहां लगाऊं, जो चांद जैसे चांदनी के धवल से चमक रहे हैं उनका परक्षन कैसे करूं, लगन तुमसे लगा बैठे,जो होगा देखा जाएगा आदि भाव विभोर मर्मस्पर्शी प्रसंग के द्वारा महाराज ने संगीतमय श्रीराम कथा में क्या खूब भगवान की महिमा का वर्णन किया।

कथा के दौरान मीरा का अभिनय –

भक्ति गीत ऐसा मेरा है भोला भाला, जैसा कोई भी भोला नहीं है,,— मेरा दिल तो दीवाना हो गया डमरू वाले पर आदि संगीतमय भक्ति संध्या की रसधार मानो श्रोताओं को अमृत का रसपान करा रही हो, इस पावन परिणय की बेला में मीरा श्री कृष्ण के अगाध प्रेम की मार्मिक झांकी के साथ दर्स की दीवानी मीरा का गीत— एक राधा एक मीरा दोनों ने श्याम को चाहा अंतर क्या दोनों की चाह में बोलो, एक प्रेम दीवानी एक दर्श दीवानी,, राम तेरी गंगा मैली फिल्म के गीत पर नृत्य संगीत ने भक्ति रस में सराबोर श्रोताओं का मन मोह लिया।

उपस्थित अतिथिगण

कथा का प्रारंभ भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश सह संगठन मंत्री माननीय श्री भवानी सिंह जी को अंगवस्त्रम भेंट कार्यक्रम के संयोजक डॉ हर्षवर्धन द्वारा किया गया, साथ ही श्री मोदीतोष सिंह जी, जिलाध्यक्ष सोनभद्र अजीत चौबे, अशोक कुमार मिश्र, आशुतोष चौबे, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला प्रचारक नितिन , दुद्धी मण्डल अध्यक्ष मनोज सिंह उर्फ बबलू, राज नारायण तिवारी, जीत सिंह खरवार, विमल गुप्ता, राजन चौधरी, दिलीप कुमार पांडे, मनोज कुमार मिश्रा आदि अतिथियों का आयोजक मंडल निरंजन कुमार जयसवाल, शैलेश कुमार, मनीष जयसवाल, रामफल यादव, प्रभाकर प्रजापति द्वारा अतिथियों का अंग वस्त्र देकर सम्मान किया गया।

पत्रकार सम्मान

अतिथि द्वारा व्यास पीठ पर ठाकुर जी का आरती किया गया, सोन प्रभात न्यूज़ संवाददाता जितेंद्र कुमार चंद्रवंशी, क्राइम जासूस रवि सिंह को अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया गया।

ओबरा से पधारे क्रेसर व्यवसाय विशाल जायसवाल एवं दीपिका जायसवाल द्वारा राधा कृष्ण और मीरा की आरती कर चरण वंदन किया गया, कथा के मुख्य जजमान सतीश चंद्र जयसवाल अपनी अर्धांगिनी के साथ भक्ति भाव से मौजूद रहे, इस मौके पर सनातन संस्कृति के साक्षी ग्रामवासी मल्देवा, दुद्धी सहित जनपद सोनभद्र के आस्थावान श्रोता हजारों की संख्या में भक्ति भाव के साथ मौजूद रहे l

Live Share Market

जवाब जरूर दे 

सोनभद्र जिले से अलग कर "दुद्धी को जिला बनाओ" मांग को लेकर आपकी क्या राय है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.
Website Designed by Sonprabhat Live +91 9935557537
.
Close
Close